Wednesday, 27 July 2022

Ranveer Singh की न्यूड फोटो लेने वाले फोटोग्राफर ने बताईं अंदर की बातें, बताया कैसे लोग करेंगे इन तस्वीरों को पसंद

 

बॉलीवुड एक्टर रणवीर सिंह के न्यूड फोटोशूट पर खूब हंगामा मचा हुआ है. कई लोग इसके समर्थन में आए हैं तो कुछ खूब विरोध कर रहे हैं. इतना ही नहीं कई जगह विरोध जताया गया है तो मुंबई में रणवीर के खिलाफ केस तक दर्ज हो गया है. केस दर्ज कराने वाले संगठन का आरोप है कि इससे महिलाओं की भावनाओं को ठेस पहुंची है. कुछ का कहना है कि रणवीर यूथ आइकन हैं और इससे युवाओं पर गलत असर पड़ेगा.


बेवजह हो रहा शोर: फोटोग्राफर

अब उस शख्स का पक्ष सामने आया है, जिसने रणवीर की ये फोटो खीची हैं. फोटोग्राफर आशीष शाह ने ETimes को बताया कि तस्वीरें रणवीर और उनके बीच एक सहयोग था. जब उनसे इन फोटोज पर हो रहे बवाल को लेकर सवाल किया गया तो उन्होंने कहा कि हम हर किसी का मुद्दा बना सकते हैं. रणवीर अपनी बॉडी को लेकर काफी सहज थे. ये बहुत अच्छी बात है कि रणवीर जैसे एक्टर मुझे मेरे विजन के साथ शूट करने की इजाजत देते हैं. शोर बल्कि अनुचित है.


उन्होंने कहा कि उन्हें लोगों से बहुत पॉजिटिव फीडबैक भी मिल रहा है. जिन लोगों को फोटोग्राफी और पेंटिंग की समझ है, वो इन पिक्चर्स को पसंद करेंगे. मैंने और रणवीर ने उनकी फिल्मों और उन डायरेक्टर्स के बार में अच्छी बातचीत की जिनके साथ उन्होंने काम किया है. इस शूट को लेकर रणवीर शर्मीले नहीं थे. हम दोनों एक-दूसरे को लेकर काफी सहज थे. आशीष ने आगे कहा कि उन्हें नहीं पता कि कोई और एक्टर इस तरह का शूट कराएगा.


रणवीर के लिए कपड़े एकत्र किए गए

रणवीर के फोटोशूट पर अभी तक मिली-जुली प्रतिक्रियाएं आई हैं. हालांकि एक्टर ने इसे लेकर कहा कि वो हजारों लोगों के सामने न्यूड हो सकते हैं. वो इसे लेकर काफी सहज हैं. बॉलीवुड के भी ज्यादातर कलाकारों ने उनका समर्थन किया है. इंदौर के एक NGO ने इसका अपने तरीके से विरोध किया. उन्होंने रणवीर सिंह के लिए कपड़े एकत्र करने का अभियान चलाया. मुंबई पुलिस ने IPC की विभिन्न धाराओं और आईटी अधिनियम की धारा 67A के तहत केस दर्ज कर लिया है.


पेपर मैगजीन के लिए शूट किए गए ये फोटो 21 जुलाई को ऑनलाइन पोस्ट किए गए. इन फोटोज में रणवीर ने एक भी कपड़ा नहीं पहना हुआ है. बाद में उन्होंने इन फोटोज को अपने इंस्टाग्राम एकाउंट पर भी शेयर किए.

Lorem ipsum is simply dummy text of the printing and typesetting industry.