Thursday, 21 July 2022

निकाय चुनाव से पहले शरद पवार ने लिया बड़ा फैसला, NCP के सभी विभाग और प्रकोष्ठों को लेकर कर दिया ये ऐलान

नई दिल्ली: तीन हफ्ते पहले ही महा विकास अघाड़ी सरकार महाराष्ट्र की सत्ता से बेदखल हुई है। वर्तमान मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे के बागी रूख अख्तियार करने के बाद ऐसा सियासी बवाल खड़ा किया था कि उद्धव ठाकरे राज्य की सत्ता से बेदखल ही हो गए। एक तरफ सत्ता जाने का दुख तो वहीं दूसरी तरफ पार्टी के चिन्ह को लेकर भी ठाकरे की चिंता बनी हुई है। इसी क्रम के बीच अब एनसीपी ने एक ऐसा कदम उठाया है जिससे ठाकरे भी चौंक जाएंगे। दरअसल, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) के अध्यक्ष शरद पवार (Sharad Pawar) ने पार्टी के सभी विभागों और प्रकोष्ठों को तत्काल प्रभाव से भंग करने का फैसला किया है। बुधवार को राकांपा के एक वरिष्ठ नेता ने इसे लेकर जानकारी दी। राकांपा के राष्ट्रीय महासचिव प्रफुल्ल पटेल (Praful Patel) ने ट्वीट कर लिखा, ”राकांपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष शरद पवार के अनुमोदन से, सभी विभाग और प्रकोष्ठ तत्काल प्रभाव से भंग किये जाते हैं”।


आपको बता दें, एनसीपी के इस कदम को शिवसेना में मचे बवाल से भी जोड़कर देखा जा रहा है। इस फैसले के मायने लगाए जा रहे हैं कि शरद पवार भी अब पार्टी में नए लोगों को मौके देने की तैयारी में है। यही कारण है कि उन्होंने प्रकोष्ठों और इकाइयों को भंग कर दिया गया है। हालांकि अभी इस कदम के पीछे की वजह सामने नहीं आ पाई है।


शरद पवार ही महा विकास अघाड़ी सरकार के सूत्रधार


शरद पवार को ही महा विकास अघाड़ी सरकार के सूत्रधार माना जाता है। ऐसा माना जाता है कि पवार की सलाह पर ही शिवसेना और कांग्रेस, एक साथ आते हुए विकास अघाड़ी सरकार का हिस्सा बनने के लिए राजी हुए। उस वक्त में भारतीय जनता पार्टी से अलग होकर शिवसेना का एनसीपी और कांग्रेस संग सरकार बनाना महाराष्ट्र की सियासत में एक बड़ी घटना के तौर पर देखा गया था।


मुंबई में खुद को मजबूत करना चाहती है एनसीपी


पिछले महीने हाथ से सत्ता गंवाने के बाद अब राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) प्रमुख के उठाए गए कदम को लेकर अब ये भी माना जा रहा है कि पार्टी मुंबई में खुद को मजबूत करने पर फोकस कर रही है। पार्टी अध्यक्ष शरद पवार ने इस साल के आखिर में होने वाले 263 सदस्यीय बीएमसी चुनावों को ध्यान में रखते हुए महानगर में पार्टी के संगठन को मजबूत करने के लिए जुट गई है। कयास ये भी लगाए जा रहे हैं कि शरद पवार खुद मुंबई पर सक्रियता से ध्यान देने में लगे हैं।

Lorem ipsum is simply dummy text of the printing and typesetting industry.