Wednesday, 20 July 2022

'जुबान संभाले वरना घूमना फिरना मुश्किल हो जाएगा...', बागी नेताओं को NCP ने दी धमकी

मुंबई: महाराष्ट्र में राजनीतिक तनाव के बीच बयानबाजी का दौर भी जारी है। अब राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी ने शिवसेना के बागी विधायकों को 'जुबान संभालने' की हिदायत भी दे दी है। विशेष बात है कि कई MLA शिवसेना के हालात को लेकर राकंपा प्रमुख शरद पवार एवं पूर्व डिप्टी सीएम अजित पवार पर प्रश्न उठा रहे हैं। हाल ही में शिवसेना से निकाले गए रामदास कदम ने भी पवार परिवार पर इल्जाम लगाए थे।


कदम ने शिवसेना की मौजूदा हालात का जिम्मेदार शरद पवार एवं अजित पवार को बताया था। उन्होंने दावा किया था कि यह पवारों का षड्यंत्र था, जिसके चलते वर्तमान हालात तैयार हुए हैं। साथ ही उन्होंने यह बताने की भी मांग की थी कि 'ठाकरे को अभी भी उनका समर्थन क्यों चाहिए' या वे महाविकास अघाड़ी गठबंधन में क्यों रहना चाहते हैं। मंगलवार को NCP के मुख्य प्रवक्ता महेश तपासे, एनसीपी युवा मोर्चा के अध्यक्ष सूरज चव्हाण एवं एमएलसी अमोल मितकारी ने कदम को खूब घेरा। इसपर तपासे ने कहा पूरा प्रदेश एवं देश जानता है कि 'क्या मजबूरियां थी, किसकी फाइलें कहां अटकी हुई थीं, जांचें, प्रलोभन या शिवसेना में इस विद्रोह के पीछे कौन है।'


वहीं, चव्हाण ने भी सीएम एकनाथ शिंदे का समर्थन करने वाले नेताओं को धमकी दी तथा पवारों के खिलाफ बोलने से पहले 'भाषा की मर्यादा' की सलाह दी। उन्होंने कहा, 'वे क्या बोल रहे हैं, इसे लेकर उन्हें सतर्क रहना चाहिए... नहीं तो उनके लिए घूमना फिरना कठिन हो जाएगा।' विशेष बात है कि केंद्र सरकार ने शिंदे समूह में आने वाले सांसदों की सुरक्षा बढ़ा दी है। मितकारी ने कदम से प्रश्न किया कि वे इतने वक़्त से पार्टी में क्या कर रहे थे तथा अब NCP पर शिवसेना को समाप्त करने के इल्जाम लगा रहे हैं। साथ ही उन्होंने पवारों पर हमला करने से पहले सोचने के लिए बोला है। NCP नेताओं ने बगावत के लिए भी बागी विधायकों पर हमला बोला।


Lorem ipsum is simply dummy text of the printing and typesetting industry.