Tuesday, 26 July 2022

Mumbai : मंकीपॉक्स के खतरे को भांपते हुए प्रशासन हुआ अलर्ट, मुंबईकरों की सुरक्षा के लिए उठाए जा रहे ये कदम

Mumbai: कोरोना संक्रमण के खतरे के बीच अब विश्व में मंकीपॉक्स (Monkeypox) ने भी दहशत फैला दी है. कई देशों में मंकीपॉक्स के मरीज सामने आ रहे हैं. भारत में भी अब इस बीमारी के मरीज मिलने लगे हैं. हालांकि देश की आर्थिक राजधानी मुंबई (Mumbai) तक फिलहाल मंकीपॉक्स नहीं पहुंचा है लेकिन मुंबकरों की सुरक्षा के लिए मनपा प्रशासन (Municipal Administration) ने पहले ही कमर कस ली है.


कस्तूरबा गांधी अस्पताल में आइसोलेशन बेड तैयार

बता दें कि मंकीपॉक्स के खतरे को देखते हुए पहले ही मनपा के चिंचपोकली स्थित कस्तूरबा गांधी अस्पताल में आइसोलेशन बेड तैयार कर दिए गए हैं. वहीं संदिग्ध मरीजों के सैंपल नेशनल वायरोलॉजी ऑफ पुणे की लैब में भेजे जाएंगे. मनपा के अतिरिक्त आयुक्त डॉ संजीव कुमार ने ये जानकारी दी है. वहीं मनपा प्रशासन के स्वास्थ्य विभाग द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक फिलहाल शहर में मंकीपॉक्स का एक भी संदिग्ध नहीं मिला है.  


संदिग्ध मरीज मिलने पर मनपा प्रशासन को सूचित करने के निर्देश

वहीं मनपा के केईएम, नायर, सायन और कूपर अस्पतालों सहित 16 उपनगरीय अस्पतालों व सभी दवाखानों को निर्देश दिए गए हैं कि किसी भी मरीज में मंकीपॉक्स के लक्षण दिखें तो फौरन स्वास्थ्य विभाग को सूचित किया जाए. गौरतलब है कि मंकीपॉक्स की बीमारी के लक्षणों में मरीज के शरीर पर फोड़े, ठंड लगना, बुखार, हाथ-पैर, चेहरे और पेट पर लाल चट्टे, सिरदर्द, हड्डियों में दर्द, ग्रंथियों में सूजन आदि शामिल हैं. ऐसे लक्षणों वाले मरीजों के बारे में फौरन मनपा प्रशासन को सूचित करने की अपील की गई है.  

Lorem ipsum is simply dummy text of the printing and typesetting industry.