Saturday, 9 July 2022

Mumbai: महाराष्ट्र के DGP को विधानसभा अध्यक्ष ने दिए निर्देश, बकरीद के दिन ना कटे एक भी गाय

मुंबई: देश दुनिया में 10 जुलाई (रविवार) को बकरीद मनाई जाएगी। इस दिन मुस्लिम संप्रदाय के अनुयायियों में कुर्बानी देने का रिवाज है। भारत में बकरे, ऊंट जैसे जानवरों की कुर्बानी दी जाती है। कुछ स्थानों पर इस दिन गायों की कुर्बानी दिए जाने की भी खबरें आती रही हैं। महाराष्ट्र में भाजपा-शिवसेना की सरकार बनने पर विधानसभा अध्यक्ष राहुल नार्वेकर ने एक पत्र लिखकर गायों की कुर्बानी न होने देने के लिए डीजीपी को निर्देश दिया है। महाराष्ट्र विधानसभा अध्यक्ष राहुल नार्वेकर ने डीजीपी को पत्र लिखकर यह सुनिश्चित करने का निर्देश दिया है कि कल 10 जुलाई यानी कि बकरीद के दिन सूबे में कहीं गाय न कटे।


बता दें कि नार्वेकर हाल ही में एकनाथ शिंदे और देवेंद्र फडणवीस सरकार में विधानसभा स्पीकर बने हैं। महाराष्ट्र में गौ हत्या अपराध है। बीजेपी-शिवसेना सरकार ने इसपर प्रतिबंध लगाया था। गौ मांस बेचने वाले और रखने वाले को पांच साल तक की जेल और दस हजार तक का जुर्माना हो सकता है। हालांकि, स्थानीय प्रशासन से ‘fit to slaughter’ का एक सर्टिफिकेट हासिल कर बछड़ो और गायों की हत्या की जा सकती है।


इससे पहले लोकसभा सांसद और ऑल इंडिया यूनाइटेड डेमोक्रेटिक फ्रंट (AIUDF) के प्रमुख मौलाना बदरुद्दीन अजमल ने असम के मुसलमानों से हिंदुओं की भावनाओं का सम्मान करने की अपील की है। उन्होंने ईद-उल-अजहा के दौरान गायों की बलि नहीं देने की अपील की है। गौरतलब है कि अजमल असम राज्य जमीयत उलमा (ASJU) के अध्यक्ष भी हैं, जो कि देवबंदी स्कूल ऑफ थिंक से संबंधित इस्लामिक विद्वानों के प्रमुख संगठनों की टॉप बॉडी है।

Lorem ipsum is simply dummy text of the printing and typesetting industry.