Tuesday, 19 July 2022

Maharashtra: शिवसेना सांसद राहुल शेवाले पर महिला ने लगाया रेप का आरोप, सीएम शिंदे को पत्र लिख कर मांगा इंसाफ

सीएम एकनाथ शिंदे को पत्र लिखकर एक महिला ने इंसाफ की गुहार लगाई है. महिला ने शिवसेना सांसद राहुल शेवाले (Rahul Shewale MP Shiv Sena) पर रेप की शिकायत दर्ज करवाई है. लेकिन शिकायत की सुनवाई ना होने की बात कही है. आज (19 जुलाई, मंगलवार) शिंदे गुट की ओर से लोकसभा अध्यक्ष को पत्र देकर यह अपील की गई है कि विनायक राउत अब लोकसभा में उनके नेता नहीं बल्कि ग्रुप लीडर के तौर पर राहुल शेवाले को उन्होंने चुना है, लोकसभा अध्यक्ष उन्हें शिवसेना के ग्रुप लीडर के तौर पर स्वीकार करे. इसी बीच उन पर बलात्कार का आरोप (Rape Accusation) करने वाली महिला द्वारा सीएम शिंदे को पत्र लिखे जाने से शेवाले की मुश्किलें बढ़ गई हैं. सीएम एकनाथ शिंदे (CM Eknath Shinde) इस वक्त दिल्ली में हैं. उद्धव ठाकरे के कैंप को छोड़ कर शिंदे गुट में शामिल हुए 12 सांसदों ने आज दिल्ली में सीएम शिंदे से मुलाकात की. इन सांसदों के साथ राहुल शेवाले भी मौजूद थे.


संबंधित महिला ने सीएम शिंदे को लिखे पत्र में कहा है, ‘मेरी शिकायत नहीं सुनी गई. पुलिस ने केस दर्ज नहीं किया. मेरे पास जान देने के अलावा अब कोई रास्ता नहीं बचा है.’ महिला ने यह पत्र ट्विटर पर शेयर किया है. महिला का आरोप है कि सबूत दिए जाने के बावजूद मुंबई के अंधेरी में स्थित साकीनाका पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज नहीं की जा रही है. लेकिन पुलिस ने ऐसे किसी भी पत्र के मिलने से इनकार किया है.


‘पुलिस नहीं कर रही कार्रवाई’, महिला ने सीएम शिंदे से गुहार लगाई


‘शेवाले के खिलाफ दर्ज करें केस, शादी के नाम पर दो सालों से रेप’

संबंधित महिला ने अपने पत्र में लिखा है,’सांसद राहुल शेवाले शादी करने का झांसा देकर मेरे साथ 2020 से ही रेप कर रहे हैं और उन्होंने मुझे मानसिक यातनाएं दी हैंं. वे मुझसे यह कहते रहे कि उनका कभी भी अपनी पत्नी से तलाक हो सकता है. उन दोनों में कुछ भी ठीक नहीं है. मैंने उनकी बातों पर विश्वास किया और लव प्रोपोजल स्वीकार किया.’


महिला का आरोप है कि राहुल शेवाले उन्हें दिल्ली के सरकारी आवास में खाने पर बुलाया करते थे और शादी का झांसा देकर संबंध बनाया करते थे.अप्रैल महीने में महिला ने सांसद शेवाले के खिलाफ अंधेरी के साकीनाका पुलिस स्टेशन में लिखित शिकायत दी. तब सांसद शेवाले ने कहा कि वे किसी भी तरह की पूछताछ के लिए हाजिर होने को तैयार हैं. लेकिन फिर 12 मई को अंधेरी के मजिस्ट्रेड कोर्ट के आदेश पर संबंधित महिला के खिलाफ भी केस दर्ज हुआ और महिला पर आरोप लगाया गया कि ब्लैकमेल कर पैसे ऐंठने के चक्कर में वे एक प्रतिष्ठित व्यक्ति की इज्जत उछाल रही हैं. फिलहाल साकीनाका पुलिस महिला के खिलाफ शिकायत की जांच कर रही है.

Lorem ipsum is simply dummy text of the printing and typesetting industry.