Tuesday, 26 July 2022

Maharashtra: ‘मुंबई महानगरपालिका का चुनाव शिवसेना हारेगी, वरना मैं ऑन कैमरा माफी मांगूंगा’, बीजेपी के बड़े नेता का दावा

शिवसेना की सत्ता मुंबई महानगरपालिका से खत्म हो जाएगी. आने वाले बीएमसी इलेक्शन में शिवसेना हार जाएगी. यह बात मैं ऑन रिकॉर्ड कह रहा हूं. लिख लीजिए, अगर ऐसा नहीं हुआ तो मैं ऑन कैमरा माफी मांगूंगा. यह दावा महाराष्ट्र बीजेपी के बड़े नेता और पूर्व वित्त मंत्री सुधीर मुनगंटीवार ने किया है. रिपोर्ट्स के मुताबिक बात करते हुए सुधीर मुनगंटीवार ने शिवसेना की इस संभावित हार की वजह भी बताई. उन्होंने कहा कि हार की वजह उद्धव ठाकरे का यह इंटरव्यू होगा जो उन्होंने रश्मि ठाकरे के ही अखबार ‘सामना’ में दिया है.


सुधीर मुनगंटीवार ने कहा कि जिस तरह से उद्धव ठाकरे ने यह इंटरव्यू अपने घर के अखबार में संजय राउत को दिया है, उसे जनता पसंद नहीं करेगी. घर वालों के सवालों पर घरवालों को ही जवाब देना और बाकियों पर जो मर्जी में आए हमले करना, उन्हें गद्दार कहना, पीठ पर खंजर घोंपने वाला कहना, ये सब जनता देख रही है. ऐसे इंटरव्यू का फटका आने वाले बीएमसी इलेक्शन में साफ दिखाई देगा.


‘किसने किया हजारों करोड़ खर्च, आप CM बने जब?’

सुधीर मुनगंटीवार ने कहा, ‘उद्धव ठाकरे अपने इंटरव्यू में कांग्रेस और एनसीपी पर कोई इल्ज़ाम नहीं लगाते आज वे कह रहे हैं कि उनकी सरकार गिराने के लिए हजारों करोड़ रुपए खर्च किए गए.आप जब हमारा साथ छोड़ कर महा विकास आघाड़ी सरकार में सीएम बन गए तो आपको सीएम बनाने में भी हजारों करोड़ खर्च हुए क्या? वे कहते हैं कि वे सीएम बनना नहीं चाहते थे, उन्हें जबर्दस्ती सीएम बनाया गया. ऐसा किसी को जबर्दस्ती सीएम बनाया जा सकता है क्या?’


‘पीएम मोदी आपके पिता नहीं, उनका फोटो दिखा कर चुनाव जीता कि नहीं?’

सुधीर मुनगंटीवार ने कहा, ‘उद्धव ठाकरे बाकी लोगों से कहते हैं कि उनके पिता का फोटो दिखा कर वोट मत मांगो. अपने पिता का फोटो दिखा कर वोट मांगो. फिर तो पीएम मोदी भी आपके पिता नहीं थे. आपने उनका फोटो बैनर्स और झंडे में लगा कर 2019 का चुनाव जीता कि नहीं? आपने किस आधार पर पीएम मोदी के फोटो का इस्तेमाल किया.’


आज राजा वही, जो पेटी के दम पर आए, पिता के दम पर नहीं’

उद्धव ठाकरे ने शिंदे गुट पर इल्जाम लगाया है कि उन्होंने शिवसेना पार्टी को हाइजैक करने की कोशिश की, अब पिता को भी चुराने निकले हैं. इसका जवाब आज केंद्रीय रेलवे राज्य मंत्री राव साहेब दानवे ने भी दिया. उन्होंने कहा कि बालासाहेब सिर्फ उद्धव ठाकरे के पिता नहीं थे. महाराष्ट्र में उन्हें मानने वाले असंख्य लोगों के पिता थे. आज राजा कहलाने का हकदार वही, जो पेटी (मतपेटी) से चुनकर आए, पिता के दम पर नहीं.

Lorem ipsum is simply dummy text of the printing and typesetting industry.