Friday, 15 July 2022

Maharashtra : मुंबई, पुणे, सातारा, पालघर में होगी मूसलाधार बरसात, मौसम विभाग का अंदाज; महाराष्ट्र में अब तक हुई 99 मौत

महाराष्ट्र : महाराष्ट्र के कई जिलों में हफ्ते भर से मूसलाधार बरसात (Maharashtra Rain) शुरू है. मुंबई समेत पालघर, पुणे, सातारा और कई अन्य इलाकों के लिए भारतीय मौसम विभाग (IMD) ने अलर्ट जारी किया है. राज्य के कई जिले ऐसे हैं जहां बाढ़ आई हुई है. बरसात और बाढ़ (Flood and rain) की वजह से अब तक 99 लोगों की मौत हो चुकी है. 181 जानवर भी अपनी जान गंवा चुके हैं. 7963 लोगों को अब तक बाढ़ प्रभावित इलाकों से लाकर सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया जा चुका है. राज्य भर में बरसात की वजह से 14 एनडीआरएफ की टीम और 6 एसडीआरएफ की टीम तैनात की गई है.


इस बीच भारतीय मौसम विभाग ने पालघर, पुणे और सातारा जिले के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया है. इसके अलावा मुंबई, ठाणे, रायगढ़, रत्नागिरि, सिंधूदुर्ग, नासिक, कोल्हापुर, अकोला, अमरावती, बुलढाणा, चंद्रपुर, गढ़चिरोली, गोंदिया, नागपुर, वर्धा, वाशिम और यवतमाल जिले के लिए येलो अलर्ट जारी किया गया है.


मुंबई में बरसात से राहत नहीं, मौसम विभाग ने बात यह साफ कही

मुंबई में फिलहाल बरसात से राहत नहीं मिलने वाली है. मौसम विभाग ने यह बात साफ कर दी है. मुंबई और इसके आस-पास कहीं मूसलाधार तो कहीं मध्यम स्तर की बरसात का अंदाज जारी किया गया है. 45 से 55 किलोमीटर की रफ्तार से बहने वाली हवाएं 65 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से बहेंगी.


नागपुर, कोल्हापुर में भी नहीं बदलेंगे हालात, जमकर होगी बरसात

आज राज्य में रेड अलर्ट तो कहीं नहीं है लेकिन मूसलाधार बरसात होने के हालत बने हुए हैं. कोल्हापुर की पंचगंगा में बाढ़ के हालात बने हुए हैं. पंचगंगा में पानी 37 फुट 8 ईंच की ऊंचाई पर बह रहा है. खतरे का निशान 39 फुट पर है. जिले के कई पुलों और सड़कों पर पानी आने की वजह से स्थानीय प्रशासन ने कुछ सड़कों को आवाजाही के लिए बंद कर दिया है.


नागपुर के कुछ ठिकानों में बिजली की कड़कड़ाहट के साथ मूसलाधार बरसात होने के संकेत दिए गए हैं. विदर्क्ष क्षेत्र के नागपुर, भंडारा, चंद्रपुर के कुछ इलाकों में और अमरावती, वर्धा, गढ़चिरोली और गोंदिया जिले में हल्के से मध्यम स्तर की बरसात होने का अनुमान है.


पुणे, नवी मुंबई, पालघर, ठाणे में स्कूलों में छुट्टी, टूरिस्ट प्लेसेस में धारा 144 लगी

बरसात और बाढ़ से पैदा हुए हालात को देखते हुए पुणे जिले के इंदापुर, बारामती, दौंड, शिरूर और पुरंदर तालुके को छोड़ कर बाकी सभी तालुके में 12 वीं तक सभी स्कूल 14 से 16 जुलाई के दौरान बंद रहेंगे. इसी तरह नवी मुंबई, पालघर, ठाणे, रायगढ़, पनवेल जैसे इलाकों में गुरुवार (14 जुलाई) को माध्यमिक और प्राथमिक स्कूलों को शिक्षा विभाग की ओर से बंद रखने का फैसला किया गया. इसी तरह 17 जुलाई तक जिलाधिकारियों के आदेश से अलग-अलग इलाकों के पर्यटन स्थलों में धारा 144 लागू कर दी गई है. इस तरह किले, डैम, तालाब, झरनों में लोगों की आवाजाही में पाबंदी लागू की गई है.

Lorem ipsum is simply dummy text of the printing and typesetting industry.