Friday, 15 July 2022

Maharashtra : महाराष्ट्र में बारिश का कहर, अब तक 99 लोगों की मौत, NDRF की 14 टीमें तैनात, इन जिलों में ऑरेंज अलर्ट

Maharashtra : महाराष्ट्र में भारी बारिश से हालात बदतर हैं। बारिश से बिगड़े हालात से निपटने के लिए कुल 14 एनडीआरएफ की टीमों और एसडीआरएफ की 6 टीमों को तैनात किया गया है। राज्य में अब तक बारिश के चलते कुल 99 लोगों की मौत हुई है। वहीं 7963 लोगों को सुरक्षित जगह शिफ्ट किया गया है। बारिश का कहर लगातार जारी है। पिछले  24 घंटे में 4 लोगों की मौत की खबर है। बारिश का प्रभाव जानवरों पर भी बुरी तरह पड़ा है। अब तक 181 जानवरो की मौत हुई है। इसी बीच मौसम विभाग ने आज मुंबई, ठाणे, रत्नागिरी, सिंधुदुर्ग, रायगढ़,नाशिक, कोल्हापुर, अकोला, नागपुर में येलो अलर्ट जारी किया है। वहीं पालघर जिले में भारी बारिश का ऑरेंज अलर्ट किया गया है। राज्य में बाढ़ के चलते 249 गांव प्रभावित हुए हैं।


भारी बारिश से वर्धा नदी उफान पर

भारी बारिश से वर्धा नदी उफान पर है। इस कारण महाराष्ट्र और तेलंगाना को जोड़ने वाली सड़क तालाब बन गई है। वहीं सीएम शिंदे बाढग्रस्त इलाकों पर लगातार निगरानी बनाए हुए हैं।


महाराष्ट्र के ये जिले अलर्ट पर

मौसम विभाग ने पालघर, पुणे और सतारा ज़िले के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है। वहीं मुंबई, ठाणे, रायगढ़, रतनागिरी, सिंधुदुर्ग, नासिक, कोल्हापुर, अकोला, अमरावती, भंडारा, बुलढाणा, चंद्रपुर, गढ़चिरौली, गोंदिया, नागपुर, वर्धा, वाशिम और यवतमाल में आज येलो अलर्ट जारी किया गया।


मुंबई जाने वाला राजमार्ग करना पड़ा बंद 

गुजरात के कई इलाके भीषण बाढ़ की चपेट में हैं। मौसम विभाग ने करीब 8 जिलों में रेड अलर्ट जारी किया हैं। मुंबई जाने वाले राष्ट्रीय राजमार्ग और डांग और कच्छ में भी दो नेशनल हाईवे बंद करने पड़े हैं। गुजरात के नवसारी में पूर्णा नदी के जलस्तर में थोड़ी कमी आई है लेकिन अभी भी नदी खतरे के निशान से ऊपर बह रही है। इससे पहले भी भारी बारिश के कारण मुंबई-वडोदरा हाईवे एक्सप्रेस वे बनाने के काम मे जुटे 13 मजदूर वैतरना नदी के तेज बहाव में फंस गए थे।

Lorem ipsum is simply dummy text of the printing and typesetting industry.