Tuesday, 12 July 2022

सरकार का जोरदार प्लान! दिल्ली से मुंबई के बीच जल्द होगी Electric Highway की शुरुआत

भारत सरकार (Indian Government) दिल्ली और मुंबई के बीच एक Electric Highway बनाने की प्लानिंग कर रही है। केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी (Nitin Gadkari) ने इस बात की पुष्टि की है। इसके साथ ही इस हाइवे पर ट्रॉली ट्रक चलाना मुमकिन हो पाएगा। Also Read - Aprilia ने लॉन्च किया धांसू स्टाइल वाला स्पोर्टी Scooter, जानें कीमत और फीचर्स


सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री (Road Transport and Highways Minister) ने हाइड्रोलिक ट्रेलर ओनर्स एसोसिएशन के एक प्रोग्राम में कहा, “हमारी प्लानिंग दिल्ली से मुंबई तक इलेक्ट्रिक हाईवे बनाने की है। यहां आप ट्रॉलीबस की तरह, ट्रॉली ट्रक भी चला सकेंगे।”


Electric Highway और ट्रॉलीबस कैसे काम करेंगे

सरकार की तरफ से बनाया जाने वाला Electric Highway ऐसा होगा, जो इसकी रोड पर चलने वाले वीइकल्स को ओवरहेड लाइन से पावर देगा। वहीं ट्रॉलीबस का मतलब एक ऐसी इलेक्ट्रिक बस से है, जो ओवरहेड तारों से पावर लेती है।


ऑप्शनल फ्यूल के इस्तेमाल पर दिया जोर

इसके साथ ही केंद्रीय मंत्री ने भारी वाहन मालिकों से प्रदूषण को रोकने के लिए ऑप्शनल फ्यूल का इस्तेमाल करने का भी आग्रह किया। इस लिस्ट में इथेनॉल, मेथनॉल और ग्रीन हाइड्रोजन जैसे फ्यूल शामिल हैं। उन्होंने यह भी कहा कि सरकार 2.5 लाख करोड़ रुपये की सुरंगों का निर्माण कर रही है।


सभी जिलों को फोर-लेन सड़कों से जोड़ा जाएगा

गडकरी ने आगे कहा कि उनके मंत्रालय ने सभी जिलों को फोर-लेन सड़कों से जोड़ने का फैसला लिया है। उन्होंने कहा कि रीजनल ट्रांसपोर्ट ऑफिस (RTO) में भ्रष्टाचार के कारण भारी वाहन मालिकों को दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। इसलिए, हमें RTO की तरफ से दी जाने वाली सभी सेवाओं का डिजिटलाइजेशन करना होगा।


Nitin Gadkari ने कहा कि उनका उद्देश्य रोड एक्सीडेंट और मौतों को कम करना है। हमें सड़क सुरक्षा को लेकर सतर्क रहने की जरूरत है। उन्होंने कहा, “हमें ट्रेन्ड ड्राइवरों की जरूरत है”। उन्होंने यह भी कहा कि भारत को तेजी से बढ़ती अर्थव्यवस्था के रूप में हर तरह के परिवहन की जरूरत है।


गडकरी ने यह भी कहा कि चीन, यूरोपीय संघ और अमेरिका की तुलना में भारत में लॉजिस्टिक कॉस्ट ज्यादा है।

Lorem ipsum is simply dummy text of the printing and typesetting industry.