Saturday, 23 July 2022

मुंबई पुलिस में काम करने वाली कॉन्सटेबल के घर में सिलिंडर ब्लास्ट, बाल-बाल बचा परिवार

Mumbai : आपने ये कहावत तो सुनी ही होगी, “जाको राखे साईयां मार सके ना कोय” शनिवार (Saturday) को इस मुहावरे का जीवंत अर्थ (Vivid Example of Idiom) देखने को मिला जब एक घर में सिलिंडर ब्लास्ट (Cylinder Blast) हो गया और घर के किसी सदस्य को खरोंच तक नहीं आई. मुंबई के भायखला पुलिस स्टेशन (Police Station) में कॉन्सटेबल के पद पर तैनात विजय गोडेकर (Vijay Godekar) के घर एक बहुत बड़ी आफत आने वाली थी लेकिन वो मानो छू कर चली गई हो. जैसे ही इस घटना की जानकारी मुंबई पुलिस के कमिश्नर विवेक फंसालकर (Mumbai Police Commissioner Vivek Phansalkar ) को मिली वो पुलिस फोर्स का मनोबल बढ़ाने के लिए तुरंत ही कॉन्सटेबल विजय के घर पहुंचे. 


मुंबई पुलिस कमिश्नर ने फोर्स की तरफ से मदद का आश्वासन भी दिया. कमिश्नर विवेक फंसालकर ने ABP न्यूज से खास बातचीत में बताया कि मैंने कॉन्सटेबल विजय के घर पर जाकर देखा वहां धमाके के बाद पूरा घर अस्त-व्यस्त हो गया था. उन्होंने बताया कि मैंने विजय के परिवार से मुलाकात की और उन्हें डिपार्टमेंट की ओर से हर संभव मदद के लिए आश्वस्त किया है. मैंने उनके परिजनों से कहा आप लोगों के साथ मुंबई पुलिस खड़ी है. आपको किसी भी तरह की चिंता करने की जरूरत नहीं है.


परिवार के सामने हुआ सिलिंडर ब्लास्ट

विजय ने ABP न्यूज को बताया उन्होंने कल (22 जुलाई) की दोपहर 12 बजे के लगभग उन्होंने अपने घर के गैस का सिलेंडर बदला था, पता नही कहां से गैस लीक हुई थी ये बात समझ में नहीं आई. गैस सिलिंडर लगाने के बाद मैं पुलिस स्टेशन चला गया और परिवार में के लोग 2 बजे तक तो घर में थे लेकिन उसके बाद परिवार के सभी लोग मां, पत्नी और बेटा सब लोग महालक्ष्मी मंदिर चले गए थे. शाम को जब ये लोग वापस घर आए तो उनकी आंखों के सामने ही ये हादसा हुआ. 


पत्नी और मां ने बताया कैसे हुआ हादसा

विजय की पत्नी मानसी (Mansi) ने ABP न्यूज़ को बताया की शाम करीब 6 बजे वो यहां पहुंची. घर का दरवाजा खोला घर में गई और गैस की बदबू (Gas Smell) आने की वजह से बाहर निकल आई और अचानक से धमाका (Blast) हो गया. मानसी जब ये बता रही थी उनकी आंख भर गई वो बाल बाल बची थी. मानसी ने बताया की इस धमाके में कुछ भी हो सकता था मेरा बेटा बच गया पर मेरी बिल्ली (Cat) का मुंह जल गया. विजय की मां शालन (Vijays Mother) ने ABP न्यूज़ से बातचीत की और बताया की पड़ोसी ने अपने दरवाजे पर दिया जलाया हुआ था और ऐसा लगा आग वहां से रेंगते हुए घर में गई और सिलेंडर ब्लास्ट (Cylinder Blast) हो गया इस हादसे में मेरी साड़ी भी जलने लगी पर आसपास के लोगों ने बुझाया मुझे तो पता ही नही चल रहा था की मेरी साड़ी में आग लगी हुई है.


Lorem ipsum is simply dummy text of the printing and typesetting industry.