Saturday, 16 July 2022

राष्ट्रपति चुनाव को लेकर यशवंत सिन्हा ने क्यों रद्द किया अपना मुंबई दौरा?

मुंबई: राष्ट्रपति पद के चुनाव के लिए विपक्ष के उम्मीदवार यशवंत सिन्हा ने शिवसेना द्वारा राजग प्रत्याशी द्रौपदी मुर्मू को समर्थन देने की घोषणा करने के बाद शनिवार को मुंबई का अपना प्रस्तावित दौरा रद्द कर दिया। राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) के एक नेता ने कहा, ‘‘सिन्हा का मुंबई का दौरा रद्द कर दिया गया है, जहां उनका महा विकास आघाडी (एमवीए) के विधायकों से मुलाकात करने का कार्यक्रम था।’’ उन्होंने बताया कि यह दौरा इसलिए रद्द किया गया है क्योंकि शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे ने अपनी पार्टी द्वारा मुर्मू का समर्थन करने की घोषणा की है।


ठाकरे ने मंगलवार को यह कहते हुए मुर्मू को समर्थन देने की घोषणा की कि यह पहली बार है जब किसी आदिवासी महिला को राष्ट्रपति बनने का मौका मिल रहा है। शिवसेना के लोकसभा में 19 सांसद हैं, जिनमें से 18 सांसद महाराष्ट्र से हैं। उसके राज्यसभा में तीन सदस्य और विधानसभा में 55 विधायक हैं। हालांकि, इनमें से 40 विधायक मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे की अगुवाई वाले धड़े में शामिल हो गए हैं। अगले राष्ट्रपति का चुनाव 18 जुलाई को होगा। चुनावी मुकाबला मुर्मू और सिन्हा के बीच होगा। बीजद, वाईएसआर-सीपी, बसपा, अन्नाद्रमुक, तेदेपा, जद(एस), शिरोमणि अकाली दल और शिवसेना जैसे कुछ क्षेत्रीय दलों का समर्थन मिलने के बाद मुर्मू का मत प्रतिशत पहले ही 60 फीसदी के पार चला गया है। मुर्मूप्रचार अभियान के तौर पर बृहस्पतिवार को मुंबई आयी थीं और उन्होंने महाराष्ट्र से भारतीय जनता पार्टी के विधायकों और सांसदों से मुलाकात की थी। उन्होंने शिवसेना के शिंदे के अगुवाई वाले धड़े के विधायकों से भी मुलाकात की थी।

Lorem ipsum is simply dummy text of the printing and typesetting industry.