Tuesday, 19 July 2022

पीलीभीत की युवती को मुंबई से विदेश में बेंचने की थी तैयारी, किया सामूहिक दुष्कर्म

पीलीभीत: मुंबई निवासी एक युवक ने शहर की एक युवती अपने परिचितों के माध्यम से अपहरण करा लिया। इसके बाद युवती को पहले शहर में ही अलग-अलग स्थानों पर रखकर दुष्कर्म किया गया। बाद में आरोपित युवती को लेकर मुंबई चला गया।वहां भी युवती के साथ दुष्कर्म करने के बाद विदेश में बेच देने की तैयारी कर ली। इसकी भनक लगते ही युवती भाग खड़ी हुई।


यहां माता-पिता के पास लौटने के बाद थाने में शिकायत की लेकिन पुलिस ने कार्रवाई नहीं की। इस पर युवती एसपी से मिली और उन्हें प्रार्थना पत्र दिया। एसपी के आदेश पर सदर कोतवाली में आठ लोगों के विरुद्ध अपहरण व दुष्कर्म का मुकदमा लिखा गया। आरोपितों में एक मुंबई और एक बरेली का रहने वाला है।


सदर कोतवाली क्षेत्र के एक मुहल्ला निवासी युवती ने एसपी को दिए प्रार्थना पत्र में कहा कि लगभग एक साल पहले उसके पिता ने मुंबई के डोगरी निवासी दानियान से उसका रिश्ता तय कर दिया था। शादी की तारीख 31 अक्टूबर 2021 निर्धारित कर दी गई। इसी दौरान पिता को उस युवक के बारे में पता चला कि वह आपराधिक प्रवृत्ति का लालची व्यक्ति है।


इससे पहले भी वह शादियां कर युवतियों को ब्लैकमेल करके धंधा करवाता रहा। इसके बाद पिता ने रिश्ता खत्म कर दिया। इस पर दानियान और उसके परिचितों ने बदला लेने की नीयत से षडयंत्र रचा। विगत 31 मार्च 2022 को रात दस बजे वह शहर में दादा मियां की मजार पर थी।


वहां पर मुहल्ले के ही रहने वाले गनी की बीवी गाजिया ने कढ़ाई के कारखाना में चलना है। युवती ने प्रार्थना पत्र में कहा कि उसके रिश्तेदार गनी शम्सी उसे बहला फुसलाकर कढ़ाई का कारखाना दिखाने के बहाने मुहल्ला फीलखाना में फराज शम्सी के घर ले गए। वहां पर मुंबई के डोगरी निवासी दानियान भी मौजूद था।


उसे दानियान के सपुर्द कर दिया। दानियान ने उन लोगों को कुछ रुपये व डिब्बों में बंद सामान दिया। जिसे लेकर वे लोग ले गए। उसे दो दिन तक उस मकान में बंधक बनाकर रखा गया। इस दौरान दानियान ने उसके साथ दुष्कर्म किया। बाद में उसने अपनी सिखाई बातों का वीडियो बनाया। उससे कई कागजों पर हस्ताक्षर करा लिए।


उसके बाद कदीम शम्सी ने मुहल्ला पकड़िया में अपनी बेटी साईमा के घर ले जाकर बंधक बनाया। वहां भी मुंबई निवासी युवक ने उसके साथ दुष्कर्म किया। पिता और भाई की हत्या करने की धमकी देकर उसे मुंबई ले जाया गया। वहां दानियान ने डोगरी में सुलेमान बिल्डिंग में स्थित अपने घर में दुष्कर्म किया।


कुछ दिन पहले दानियान ने उसे विदेश में कहीं भेजने के लिए वीजा बनवा लिया। फोन पर हुई उसकी बातचीत से पता चला कि उसे बेचने की तैयारी की जा रही है। इसके बाद वह वहां से भाग खड़ी हुई और जैसे तैसे अपने माता-पिता के पास लौटी। वह पिता के साथ कोतवाली गई लेकिन पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की।


सदर कोतवाल हरीशवर्द्धन सिंह के अनुसार एसपी के आदेश पर मुंबई के डोगरा निवासी दानियान, शहर के मुहल्ला पंजाबियान निवासी गाजिया, गनी शम्सी, बरेली निवासी खालिद शम्सी, मुहल्ला फीलखाना निवासी फराज शम्सी, कदीम शम्सी व मुस्तकीम शम्सी के विरुद्ध अपहरण व दुष्कर्म का मुकदमा लिखा गया है। इसकी विवेचना शुरू कर दी गई है। 


Lorem ipsum is simply dummy text of the printing and typesetting industry.