Thursday, 21 July 2022

राज ठाकरे ने फिर से खेला मराठी कार्ड, सरकारी चैनल के खिलाफ खोला मोर्चा

मुंबई: महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना के चीफ राज ठाकरे ने दूरदर्शन से शिकायत की है कि वो स्थानीय भाषी टीवी चैनलों पर उसी भाषा में कार्यक्रम का प्रसारण करे, न कि हिंदी में. राज ठाकरे की शिकायत डीडी की मराठी सेवा डीडी सह्याद्रि को लेकर है, जिसमें उन्होंने कहा है कि डीडी सह्याद्रि पर सिर्फ मराठी भाषा में ही कार्यक्रमों का प्रसारण किया जाना चाहिए, न कि हिंदी या किसी और भाषा में. उन्होंने बाकायदा दूरदर्शन के अपर महासंचालक को पत्र लिखा है और ऐसा करने से मना किया है. 


एमएनएस के प्रतिनिधिमंडल ने की थी शीर्ष अधिकारियों से मुलाकात


जानकारी के मुताबिक, राज ठाकरे ने दूरदर्शन के अपर महासंचालक को पत्र लिखकर इस पर नाराजगी जताते हुए उसे तुरंत बंद करके मराठी भाषा मे प्रसारित करने को कहा है. इस मामले में उनकी पार्टी एमएनएस का प्रतिनिधिमंडल दूरदर्शन के अधिकारियों से मिला भी था. और अपनी बात रखी थी. इसके बाद राज ठाकरे ने अब बाकायदा पत्र लिख कर डीडी को चेतावनी दी है. उन्होंने कहा कि जिस चैनल की स्थापना ही सिर्फ मराठी भाषी लोगों के लिए की गई है, उस चैनल पर कोई हिंदी भाषी कार्यक्रम कैसे प्रसारित किये जा सकते हैं. 


दर्शकों की ओर मिल चुकी कई शिकायतें


राज ठाकरे ने दूरदर्शन के अतिरिक्त महानिदेशक (पश्चिमी क्षेत्र) नीरज अग्रवाल को लिखे पत्र में कहा, हमें चैनल के दर्शकों से इसके बारे में कई शिकायतें मिली हैं. यह भी देखा गया है कि इंटरव्यू या चर्चा जैसे कुछ कार्यक्रमों में बोलने के लिए आमंत्रित अतिथि हिंदी भाषा में बोलते हैं. यह इस चैनल की नींव के खिलाफ है. सह्याद्री चैनल से अपने सभी कार्यक्रमों को मराठी भाषा में प्रसारित करने की उम्मीद है. हालांकि, हमने देखा है कि यह चैनल अन्य भाषाओं में कार्यक्रमों का प्रसारण करता है. जो कि गलत है.' ऐसे में कृपया हमारी मांग पर विचार करें और आवश्यक कार्रवाई करें, अन्यथा मनसे समस्या के समाधान के लिए उचित कदम उठाएगी.

Lorem ipsum is simply dummy text of the printing and typesetting industry.