Tuesday, 26 July 2022

अक्षर पटेल ने कैसे खुद को वर्ल्ड कप की दौड़ में किया शामिल, 2 खिलाड़ियों के लिए बने खतरा

नई दिल्ली: अक्षर पटेल (Axar Patel) को भाग्य का साथ मिला और उन्होंने खुद को साबित भी किया. वेस्टइंडीज के खिलाफ (IND vs WI) दूसरे वनडे में उन्होंने 35 गेंद में नाबाद 64 रन बनाकर टीम इंडिया को रोमांचक जीत दिलाई. इस तरह से भारतीय टीम ने 3 मैचों की सीरीज में 2-0 की अजेय बढ़त बना ली है. तीसरा और अंतिम वनडे मैच कल खेला जाना है. हार्दिक पंड्या और रवींद्र जडेजा के टीम में रहने पर अक्षर को प्लेइंग-11 में जगह मिलना मुश्किल है. तीनों ही ऑलराउंडर के तौर पर खेलते हैं. वेस्टइंडीज के खिलाफ सीरीज से पहले जडेजा चोटिल हो गए और अक्षर को 5 साल बाद वनडे खेलने का मौका मिला. वे 2017 के बाद वनडे सीरीज में उतर रहे हैं.


टीम इंडिया लगातार सीरीज खेल रही है और लगभग एक समय में 2 टीमें खेल रही हैं. ऐसे में 40 से 45 खिलाड़ियों का एक पूल बनाया गया है. इस कारण अधिक खिलाड़ियों को मौका भी मिल रहा है. अक्षर पटेल को रवींद्र जडेजा के नंबर-2 के तौर पर भी देखा जा रहा है. दूसरे वनडे में जब वे बल्लेबाजी करने उतरे, तब भारत को जीत के लिए 68 गेंद पर 107 रन बनाने थे. उन्होंने एमएस धोनी की स्टाइल में छक्का लगाकर टीम को जीत दिलाई.


कप्तान रोहित भी हुए गदगद

अक्षर पटेल की बल्लेबाजी से कप्तान रोहित शर्मा भी काफी खुश थे. हालांकि वे वनडे सीरीज में नहीं खेल रहे हैं. अक्षर ने आईपीएल 2022 में दिल्ली कैपिटल्स को पहले मैच में मुंबई इंडियंस के खिलाफ रोमांचक जीत दिलाई थी. मुंबई ने पहले खेलते हुए 5 विकेट पर 177 रन बनाए थे. जवाब में दिल्ली ने 10 गेंद शेष रहते 4 विकेट से मैच जीता था. अक्षर पटेल 17 गेंद पर 38 रन बनाकर नाबाद रहे थे. 224 के स्ट्राइक रेट से रन बनाए थे. इस मैच में उन्होंने जसप्रीत बुमराह और डेनियल सैम्स पर भी रन बनाए, जो यॉर्कर के लिए जाने जाते हैं.


न्यूजीलैंड के खिलाफ भी किया कमाल

पिछले साल दिसंबर में न्यूजीलैंड के खिलाफ वानखेड़े में खेले गए टेस्ट में भी अक्षर पटेल ने बल्ले से जोरदार प्रदर्शन किया था. पहली पारी में उन्होंने 128 गेंद पर 52 रन बनाए थे. फिर दूसरी पारी में जब टीम को तेज रन की जरूरत थी, तब उन्होंने 26 गेंद पर नाबाद 41 रन बनाए थे. 28 साल के अक्षर वनडे में अब तक 22 पारियों में अब तक एक ही अर्धशतक लगा सके हैं. लेकिन उनका स्ट्राइक रेट 108 का है.


नंबर-5 पर दिला रहे जीत

दूसरे वनडे के बाद अक्षर ने कहा था कि आईपीएल में अंतिम 10 ओवरों में लगभग 100 रन बनाने होते हैं. इसलिए मैं इसी इरादे से गया कि हम यहां भी ऐसा कर सकते हैं. हमारी सोच थी कि हम हर ओवर में बड़े शॉट लगाने का कम से कम एक मौका जरूर बनाएंगे. गुजरात के कप्तान प्रियांक पांचाल ने क्रिकइंफो से कहा कि वह बतौर बल्लेबाज लगातार बेहतर हो रहा है. वे हमेशा नंबर-5 पर हमें जीत भी दिला रहा है.


एक चतुर गेंदबाज, पंड्या और सुंदर से निकले आगे

अक्षर पटेल क्रीज का चतुराई से उपयोग करते हैं. इसके अलावा उनके पास पेस की वैरिएशन और लूप देने की कला है. 6 टेस्ट में 39 विकेट उनकी शानदार गेंदबाजी की गवाही देते हैं. वॉशिगंटन सुंदर और क्रुणाल पंड्या से वे आगे निकल गए हैं. ऐसे में अगर रवींद्र जडेजा टीम में नहीं रहते हैं, तो पटेल टीम के लिए काफी अहम होंगे. अगले साल वनडे वर्ल्ड कप के मुकाबले भारत में होने हैं. ऐसे में बतौर स्पिन ऑलराउंडर अक्षर की भूमिका अहम हो सकती है.

Lorem ipsum is simply dummy text of the printing and typesetting industry.