Thursday, 28 July 2022

मुंबई के महा ठग ने ऐसे चलाया 'काला जादू' कि एक बार में उड़ गए 25 लाख, बुजुर्ग को ऐसे लगाया चूना

Mumbai: एक वरिष्ठ नागरिक को काला जादू कर रकम को दोगुना करने का झांसा देकर 25 लाख रुपये ठगने के आरोप में पुलिस ने पांच लोगों को गिरफ्तार किया गया है। गिरफ्तार आरोपियों की पहचान अजीत, प्रिया सोनी, गणेश पवार और एक स्वयंभू बाबा के रूप में हुई है, जिसे कैलाश बाबा के नाम से जाना जाता है। सभी आरोपियों को उनके मोबाइल फोन लोकेशन के जरिए शहर की अलग-अलग जगहों से गिरफ्तार किया गया है। मामला दहिसर पुलिस स्टेशन का है।

दहिसर पुलिस स्टेशन के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक प्रवीण पाटिल ने कहा है कि, हमने पिछले दो महीनों से आरोपियों के मोबाइल फोन को ट्रैक किया, जिसके बाद हमने उन्हें इंटरसेप्ट के आधार पर गिरफ्तार किया है। 

मुंबई में संपत्ति खरीदना चाहता था पीड़ित

पाटिल ने कहा है कि, घटना कुछ महीने पहले की है जब 75 वर्षीय शिकायतकर्ता अरुण गडिगर को इन आरोपियों ने उनके निवेश किए गए पैसे को दोगुना करने का लालच दिया। इसके बाद पीड़ित को ईंटों से भरा एक सूटकेस पकड़ा दिया। इस घटना को लेकर पीड़ित ने दहिसर पुलिस में शिकायत दर्ज कराई। उसने अपनी शिकायत में बताया कि, वह अपनी जिंदगी भर की बचत का निवेश करने के लिए मुंबई में एक फ्लैट या पनवेल में एक प्लॉट खरीदना चाहता था। पुलिस के मुताबिक, अरुण गडिगर इंटरनेट के जरिए आरोपी सोनी के संपर्क में आया था, जो उसे अन्य आरोपियों से मिलाने के लिए ले गया, उन्हें प्रॉपर्टी डीलर के रूप में पेश किया जो उसे निवेश करने के लिए एक प्रॉपर्टी का पता लगाने में मदद करने को कहा।

पीड़िता ने देखा रुपयों को दोगुना करते

इस साल मई में अरुण गडिगर को आरोपी नारायण और पवार ने पनवेल के एक फार्महाउस में बुलाया था। जहां पीड़ित ने देखा कि, कुछ लोगों मंत्र का जाप कर रहे थे और एक शख्स जो कैलाश बाबा के नाम से जाना जाता है वह मिट्टी के बर्तन में काला जादू कर रहा था। इस दौरान उसने 'काला जादू' कर कुछ रुपये दोगुने करके दिखाए। यह देखकर शिकायतकर्ता ने आरोपियों पर भरोसा करना शुरू कर दिया। उन्होंने काला जादू के जरिए उसके भी रुपयों को दोगुना करने का भरोसा दिलाया।

आरोपियों ने इस तरह दिलाया भरोसा

आरोपी ने पीड़िता को बताया कि, उन्हें अब तक सतारा के एक नगर पार्षद से 10 लाख और एक महिला से 5 लाख की अलग-अलग राशि मिली और काला जादू से उन्होंने 25 लाख रुपये बनाकर दिए। ऐसे में आरोपियों ने 24 मई को वरिष्ठ नागरिक को सतारा बुलाया जहां वे काला जादू करने जा रहे थे। शिकायतकर्ता ने अपने साथ रखे 25 लाख रुपये आरोपियों को सौंप दिए। कुछ मिनटों के बाद, कैलाश बाबा ने मिट्टी के बर्तन में अपनी नकदी रखकर काला जादू किया और फिर उन्होंने मंत्रों का जाप किया। इसके बाद आरोपी ने शिकायतकर्ता को एक सूटकेस में रखे 45 लाख रुपये की राशि दिखाई और ब्रीफकेस उसे सौंप दिया।

सूटकेस में मिली ईटें

हालांकि, आरोपी ने उसे तीन दिनों तक ब्रीफकेस नहीं खोलने की चेतावनी दी और कहा है कि, अगर उसने ऐसा करने की कोशिश की तो वह मर जाएगा। तीन दिन बाद जब शिकायतकर्ता ने सूटकेस खोला, तो उसने पाया कि, वह ईंटों से भरा था। प्रवीण पाटिल ने कहा कि, शिकायतकर्ता को तब एहसास हुआ कि उसे ठगा गया है और उसने दहिसर पुलिस आरोपियों के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई और फिर गिरफ्तार किया गया।


Lorem ipsum is simply dummy text of the printing and typesetting industry.