Friday, 24 June 2022

Mumbai: घर के दरवाजे खुले हैं… राउत का एकनाथ को ऑफर; कहा- एमवीए से बाहर निकलने की सोचेंगे

 


मुंबई : महाराष्ट्र का सियासी संकट अब एक रोमांचक मोड़ पर खड़ा है। शिवसेना के बागी नेता एकनाथ शिंदे ने अपने साथ 49 विधायकों की तस्वीर जारी कर दी है। दूसरी तरफ शिवसेना के संजय राउत ने कहा है कि हम एनसीपी और कांग्रेस से गठबंधन तोडऩे के लिए तैयार हैं। बस शिंदे मुंबई आकर उद्धव से बात करें। इसके अलावा खबर है कि बीजेपी ने शिंदे को सरकार बनाने का ऑफर भेज दिया है।


शिवसेना के सीनियर नेता संजय राउत ने एक बार फिर से बागियों को लुभावना संदेश दिया है। उन्होंने ट्वीट कर कहा कि आप लोग स्वाभिमान से फैसला लें, किसी भी तरह की गुलामी से बचें। उन्होंने ट्वीट कर कहा कि चर्चा से हम किसी भी संकट से बाहर निकल सकते हैं। घर के दरवाजे खुले हैं, जंगल में क्यों भटकते हो। आइए गुलामी के बजाय स्वाभिमान से फैसला करें। संजय राउत की ट्विटर पर इस अपील को बागी गुटों को लुभाने के एक नए पैंतरे के तौर पर देखा जा रहा है। दरअसल बागी विधायकों की संख्या इतनी अधिक बताई जा रही है कि वे खुद को अलग गुट मानते हुए शिवसेना पर ही दावा ठोक सकते हैं और ऐसी स्थिति उद्धव सरकार के लिए ही नहीं बल्कि पार्टी के लिए भी मुश्किल भरी होगी।


इससे पहले संजय राउत ने आज दोपहर को ही मीडिया से बात करते हुए बागियों को संदेश देते हुए कहा कि वे गुवाहाटी छोड़कर मुंबई आएं और बात करें। यही नहीं उन्होंने तो यहां तक कहा कि यदि बागी विधायक चाहते हैं कि हम महा विकास अघाड़ी का साथ छोड़ दें तो ऐसा भी कर सकते हैं। उनके इस रुख से साफ है कि शिवसेना एकनाथ शिंदे के सामने बुरी तरह से दबाव में है और किसी भी हाल में सरकार और दल को बचाने की कवायद चल रही है। इससे पहले खुद उद्धव ठाकरे ने फेसबुक लाइव पर जनता को संबोधित किया था।


हिम्मत है तो मुंबई आइए, एमवीए से बाहर निकलने की सोचेंगे


संजय राउत ने मीडिया के सामने नितिन देशमुख और कैलाश पाटिल को पेश किया। इस दौरान राउत ने एकनाथ शिंदे गुट पर हमला करते हुए कहा, इन लोगों की मुंबई आने की हिम्मत नहीं है। यहां पर आकर उन्हें जो कुछ कहना है वह कहना चाहिए। यहां पर आकर पत्र व्यवहार करना चाहिए। लेकिन यह सभी लोग गुवाहाटी में बैठकर बातें बना रहे हैं। हिम्मत है तो मुंबई वापस आइए। उद्धव जी के सामने अपनी बात रखें। मुझे पूरा भरोसा है कि आपकी बात सुनी जाएगी। 24 घंटों के अंदर वापस आइए। हम एमवीए (महाविकास अघाड़ी) से बाहर निकलने विचार करेंगे।


Lorem ipsum is simply dummy text of the printing and typesetting industry.