Wednesday, 22 June 2022

Maharashtra: शिवसेना का बागी विधायकों को अल्टीमेटम, 'शाम 5 बजे तक मुंबई लौटें, नहीं तो...'





Maharashtra Political Crisis: महाराष्ट्र में एक बार फिर सियासी महाभारत छिड़ा है और उद्धव ठाकरे सरकार (Uddhav Thackeray Govt) संकट में हैं. शिवसेना के कई सैनिक बागी हो गए हैं और गुवाहाटी में एकनाथ शिंदे (Eknath Shinde) अपने साथ 40 से ज्यादा विधायकों के होने का दावा कर रहे हैं. इसके बाद सवाल उठने लगा है कि क्या गठबंधन से बंधी उद्धव ठाकरे की सरकार बच पाएगी. इस बीच शिवसेना ने एक लेटर जारी किया है और बागी विधायकों को चेतावनी दी है.


शिवसेना ने बागी विधायकों को दिया अल्टीमेटम

महाराष्ट्र में जारी सियासी घमासान के बीच लेटर जारी कर शिवसेना (Shiv Sena) ने बागी विधायकों को अल्टीमेटम दिया है और कहा है कि जो आज (22 जून) शाम 5 बजे तक मुंबई नहीं आए, उनकी सदस्यता रद्द की जाएगी. पत्र के आखिरी पैराग्राफ में लिखा है, 'अगर आप विधायक दल की बैठक में नहीं आते हैं, तो यह माना जाएगा कि आप पार्टी तोड़ना चाहते हैं और आपकी सदस्यता रद्द की जा सकती है.'


क्या CM उद्धव ठाकरे आज देंगे इस्तीफा?

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, बताया जा रहा है कि महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) आज पद से इस्तीफा दे सकते हैं. इस बीच शिवसेना नेता संजय राउत (Sanjay Raut) ने कहा कि कोई भी फैसला विधायकों के मुंबई लौटने के बाद ही होगा.


कैबिनेट बैठक में विधानसभा भंग करने का प्रस्ताव नहीं

महाराष्ट्र में जारी सियासी संकट के बीच मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) ने कोरोना संक्रमित होने के बाद कैबिनेट के मंत्रियों के साथ वर्चुअल बैठक की, जिसमें कई मंत्री शामिल नहीं हुए. कैबिनेट मीटिंग में विधानसभा भंग करने का कोई प्रस्ताव पेश नहीं किया गया. हालांकि, मौजूदा परिस्थिति से निपटने की तैयारी को लेकर चर्चा की गई.


शिवसेना के बागी विधायक गुवाहाटी में हैं

बता दें कि शिवसेना के वरिष्ठ नेता और कैबिनेट मंत्री एकनाथ शिंदे (Eknath Shinde) के नेतृत्व में 40 बागी विधायक असम के गुवाहाटी में मौजूद है. सभी विधायक एक चार्टर्ड विमान से बुधवार को तड़के सूरत से गुवाहाटी पहुंचे थे. महाराष्ट्र के विधायकों को पुलिस की सुरक्षा में बसों के जरिए एयरपोर्ट से एक लग्जरी होटल ले जाया गया. इससे पहले एकनाथ शिंदे ने बगावत करते हुए शिवसेना और अन्य निर्दलीय विधायकों के साथ सूरत के एक होटल में डेरा जमाया था.

Lorem ipsum is simply dummy text of the printing and typesetting industry.