Monday, 21 February 2022

Raid: प्रवर्तन निदेशालय ने इंडियाबुल्स फाइनेंस सेंटर में मारा छापा, यहां जानें किस मामले में की गई कार्रवाई

 


ईडी की कार्रवाई

प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने सोमवार को मुंबई में इंडिया बुल्स फाइनेंस सेंटर में छापेमार कार्रवाई की। एक रिपोर्ट के मुताबिक, महाराष्ट्र पुलिस ने 2014 और 2020 के बीच कंपनी के प्रमोटरों और निदेशकों द्वारा पैसों की हेरा-फेरी और लेखांकन अनियमितताओं के लिए इंडियाबुल्स समूह की कंपनियों के खिलाफ अप्रैल 2021 में केस दर्ज किया था। इसमें प्रमुख कंपनी इंडियाबुल्स हाउसिंग फाइनेंस भी शामिल हैं।

दिल्ली-मुंबई संयुक्त टीम ने मारा छापा
रिपोर्ट के मुताबिक, प्रवर्तन निदेशालय दिल्ली और मुंबई की एक संयुक्त टीम ने ये छापा मारा है। ईडी की कार्रवाई इंडियाबुल्स हाउसिंग, प्रमोटर समीर गहलोत और कुछ अन्य संबंधित कंपनियों और व्यक्तियों के खिलाफ मनी लॉन्ड्रिंग रोकथाम अधिनियम, 2002 (पीएमएलए) के तहत दर्ज एक प्रवर्तन मामला सूचना रिपोर्ट (ईसीआईआर) के आधार पर की गई है। इसमें बताया गया कि प्रवर्तन निदेशालय ने पालघर में दर्ज की गई एक प्राथमिकी के आधार पर केस दर्ज किया था। इसमें कहा गया था कि कंपनी ने पैसे की हेरा-फेरी की और बढ़ती कीमत के लिए अपने शेयरों में निवेश किया। प्राथमिकी में शिकायतकर्ता ने रियल एस्टेट कंपनियों का उल्लेख भी किया था जिन्होंने इंडियाबुल्स से ऋण लिया था और पैसा वापस इंडियाबुल्स हाउसिंग शेयरों में भेज दिया था।

Lorem ipsum is simply dummy text of the printing and typesetting industry.