Wednesday, 8 December 2021

BJP नेता की बेटी बनेगी ठाकरे परिवार की बहू:दूल्हा शिवसेना का लीगल एडवाइजर तो दुल्हन इंडियन शुगर मिल्स एसोसिएशन की डायरेक्टर, 28 को शादी

 महाराष्ट्र के 2 राजनैतिक परिवार जल्द रिश्तेदार बनने जा रहे हैं। भाजपा नेता हर्षवर्धन पाटिल की बेटी अंकिता पाटिल, ठाकरे परिवार की बहू बनने जा रही हैं। 28 दिसंबर को मुंबई के ताज होटल में उनकी शादी बालासाहेब ठाकरे के दिवंगत बेटे बिंदु माधव ठाकरे के बेटे निहार से होने जा रही है।

पेशे से एडवोकेट निहार सक्रिय रूप से राजनीति में नहीं हैं, लेकिन करीबी लोगों का कहना है कि शिवसेना के लीगल मामले वे ही हेंडल करते हैं। इस शादी में सीएम उद्धव ठाकरे के साथ महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना प्रमुख राज ठाकरे भी अपने पूरे परिवार के साथ शामिल होंगे। दोनों ही रिश्ते में निहार के चाचा हैं।

मनसे प्रमुख की दोनों परिवारों संग नजदीकियां बताई जा रही हैं। लड़की के पिता हर्षवर्धन पाटिल ने राज ठाकरे के घर जाकर शादी का न्योता दिया है। कोरोना संक्रमण की तीसरी लहर के खतरे के बीच हो रही इस शादी में सिर्फ पारिवारिक लोग आमंत्रित हैं। पूर्व सहकारिता मंत्री हर्षवर्धन पाटिल की बेटी अंकिता पाटिल वर्तमान में पुणे जिला परिषद की सदस्य हैं और इंडियन शुगर मिल्स एसोसिएशन की डायरेक्टर भी हैं।

निहार राजनीति में संक्रिय नहीं है, लेकिन शिवसेना के लीगल मामले वही देखते हैं।
निहार राजनीति में संक्रिय नहीं है, लेकिन शिवसेना के लीगल मामले वही देखते हैं।

पहले कांग्रेस में थे हर्षवर्धन पाटिल
हर्षवर्धन पाटिल पहले कांग्रेस में थे। 2019 के विधानसभा चुनावों से ठीक पहले बीजेपी में आ गए। हर्षवर्धन पाटिल अब भाजपा के कद्दावर नेता माने जाते हैं। वो पुणे जिले की इंदापुर विधानसभा सीट से 4 बार विधायक रहे हैं। हर्षवर्धन पाटिल के पास 1995 से 2014 तक सभी राज्य सरकारों में मंत्री के रूप में सेवा देने का रिकॉर्ड भी है।

अंकिता पाटिल कुछ समय तक कांग्रेस में भी रहीं हैं। फिलहाल वे पुणे जिला परिषद की सदस्य हैं।
अंकिता पाटिल कुछ समय तक कांग्रेस में भी रहीं हैं। फिलहाल वे पुणे जिला परिषद की सदस्य हैं।

तीन बार निर्दलीय विधायक रहे हैं पाटिल
1995, 1999 और 2004 में हर्षवर्धन पाटिल ने निर्दलीय प्रत्याशी के तौर पर जीत हासिल की। 2009 में उन्होंने कांग्रेस के टिकट पर चुनाव लड़ा। 1995 में उन्होंने शिवसेना-बीजेपी सरकार का समर्थन किया था और मंत्री बने।

1996 में बिंदु माधव ठाकरे का निधन हो गया था। उस समय महाराष्ट्र में बीजेपी-शिवसेना गठबंधन की सरकार थी। उस वक्त बालासाहेब ठाकरे ने बिंदु ठाकरे की याद में मुंबई-पुणे एक्सप्रेस-वे बनाने की कल्पना की थी। उस सरकार में इस एक्सप्रेस-वे का काम शुरू हो गया था। लेकिन इसे बनने में समय लग गया था।

इन नेताओं के घर भी बजनी है शहनाई
शिवसेना सांसद संजय राऊत, कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष नाना पटोले, मंत्री गुलाबराव पाटिल, जितेंद्र आव्हाड और अब भाजपा नेता हर्षवर्धन पाटिल के घर भी शादी की तैयारियां हो रही हैं।



SHARE THIS

Author:

Etiam at libero iaculis, mollis justo non, blandit augue. Vestibulum sit amet sodales est, a lacinia ex. Suspendisse vel enim sagittis, volutpat sem eget, condimentum sem.

0 coment rios: