आपराधिक गतिविधियों ने उड़ाई कल्याण पुलिस की नींद, साल 2021 में 850 मामले दर्ज, बाइक चोरी का रिकार्ड रहा अव्वल - Hindmata Mirror

Tuesday, 28 December 2021

आपराधिक गतिविधियों ने उड़ाई कल्याण पुलिस की नींद, साल 2021 में 850 मामले दर्ज, बाइक चोरी का रिकार्ड रहा अव्वल



 कल्याण : बढ़ते आपराधिक (Criminal) मामलों ने  कल्याण (Kalyan) पुलिस (Police) की नींद उड़ा दी हैं। खासकर चेन स्नैचिंग (Chain Snatching), सेंधमारी (Burglary) और वाहन चोरी की बढ़ती घटनाओं ने कल्याण पुलिस की नींद हराम कर रखी है। कोरोना काल में पाबंदियों के बावजूद भी वर्ष 2021 में कल्याण पुलिस परिमंडल-3 के अंतर्गत 850 आपराधिक मामलों को विभिन्न पुलिस थानों में दर्ज कराया गया है, जिन्हें अपराधियों द्वारा अंजाम दिया गया है। इसमें वाहन चोरी की वारदात सबसे अधिक दर्ज  कराई गई है।

पुलिस रिकार्ड से मिली जानकारी के अनुसार  कल्याण पुलिस परिमंडल 3 के अंतर्गत विभिन्न पुलिस स्टेशनों में दर्ज आंकड़ों के मुताबिक कल्याण-डोंबिवली में औसतन रोजाना दो मोटरसाइकल और चैन स्नैचिंग और सेंधमारी की दो-दो घटनाएं सामने आई है। इन वारदातों में पुलिस ने कुछ मामलों का खुलासा किया है। जबकि कुछ मामले अभी भी पुलिस की फाइलों में बंद है। जिसमें आरोपियों का कोई अता-पता नहीं है, मार्च महीने में कोरोना का खतरा बढ़ता देख प्रशासन ने लॉकडाउन की घोषणा की थी। जिसमें सभी प्रकार के कारोबार ठप पड़े हुए थे, इसके बावजूद वर्ष 2021 में 850 आपराधिक घटनाओं को अंजाम दिया गया है, जिसमें सर्वाधिक आंकड़े बाइक चोरी के दर्ज हुए है।

पुलिस में दर्ज आपराधिक आंकड़ों के अनुसार इस साल बाइक चोरी के 390 मामले, सेंधमारी के 170, छेड़खानी के 87, पोक्सो के 48, मोबाइल छिनैती के 41, चैन स्नैचिंग के 37, दुष्कर्म के 36, जिसमें 34 युवकों द्वारा किया गया डोंबिवली का बहुचर्चित रहा। सामूहिक दुष्कर्म का मामला प्रमुख हैं, हत्या के 19 और हत्या की कोशिश के 17 मामले उजागर हुए हैं। हैरानी की बात यह है कि कल्याण पुलिस परिमंडल-3 में चोर-उचक्कों और अपराधियों द्वारा रात ही नहीं बल्कि दिन-दहाड़े भी चोरी और लूटपाट की वारदात को बेखौफ होकर अंजाम दिया गया है।

आपराधिक घटनाओं का ग्राफ कम हो सके

सेंधमारी के 170 मामले कल्याण-डोंबिवली के विभिन्न पुलिस थानों में दर्ज कराए गए है। जिसमें 67 मामलों को सुलझाने में पुलिस को सफलता मिली है, वहीं बाइक पर सवार होकर धूम स्टाइल में चैन स्नैचिंग करने वाले अपराधियों ने राह चलती महिलाओं को सबसे ज्यादा शिकार बनाया है। कल्याण पुलिस परिमंडल-3 में इस साल आपराधिक घटनाओं से शहर के नागरिक, व्यापारी और खासकर महिलाएं व्यथित रही हैं। आने वाले नए साल में आपराधिक गतिविधियों पर लगाम लगाना पुलिस विभाग के लिए बड़ी चुनौती मानी जा रही है। उम्मीद है कि नए साल में कल्याण पुलिस नियोजित ढंग से काम करेगी जिससे आपराधिक घटनाओं का ग्राफ कम हो सके।


Lorem ipsum is simply dummy text of the printing and typesetting industry.

Ads 970x90