Thursday, 23 September 2021

Maharashtra: BJP नेता किरीट सोमैया ने ठाकरे सरकार और मुंबई पुलिस के खिलाफ दर्ज कराई शिकायत

 

किरीट सोमैया ने कहा कि सोमवार तड़के महाराष्ट्र के सतारा जिले के कराड़ रेलवे स्टेशन पर उन्हें गैरकानूनी तरीके से हिरासत में लिया गया था. उन्हें कोल्हापुर के लिए ट्रेन में सवार होने से रोका गया था और उनके साथ धक्का-मुक्की भी हुई थी.

बीजेपी नेता किरीट सोमैया (Kirit Somaiya) ने बुधवार को महाराष्ट्र सरकार और मुंबई पुलिस (Mumbai Police) के खिलाफ नवघर मुलुंद पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज कराई है. किरीट सोमैया का दावा है कि कोल्हापुर जाते समय पुलिस ने उन्हें महाराष्ट्र के सातारा जिले के कराड़ में रोक कर गैरकानूनी तरीके से हिरासत में ले लिया था. उन्होंने दावा किया था कि महाराष्ट्र के ग्रामीण विकास मंत्री हसन मुशरिफ के खिलाफ भ्रष्टाचार के आरोपों के बाद जिला अधिकारियों ने कानून व्यवस्था और सुरक्षा चिंताओं का हवाला देते हुए उन्हें कराड़ में रोका था.

शिकायत दर्ज करने के बाद मीडियाकर्मियों से बात करते हुए, सोमैया ने कहा, ‘मुंबई पुलिस ने मुझे गलत तरीके से हिरासत में लिया था, मुझे कोल्हापुर जाने से रोकने के लिए सत्ता का दुरुपयोग किया गया. गणेश विसर्जन के दिन मुझे अपने आवास से बाहर निकलने से रोक दिया गया था. इसके बाद मुझे रेलवे स्टेशन पर भी रोका गया था. मैंने भारतीय दंड संहिता की धारा 149, 340, 341, 342 के तहत मुलुंद और एमआरए मार्ग पुलिस स्टेशनों को कानूनी नोटिस दिया है. मुंबई पुलिस और महाराष्ट्र सरकार को 24 घंटे के भीतर मुझसे माफी मांगनी पड़ेगी.’


पुलिस पर दुर्व्यवहार का आरोप
किरीट सोमैया ने कहा कि सोमवार तड़के महाराष्ट्र के सतारा जिले के कराड़ रेलवे स्टेशन पर उन्हें हिरासत में लिया गया था. उनके 20 सितंबर को कोहलापुर जाने की उम्मीद थी और वो ट्रेन से वहां जा रहा थे. मुंबई पुलिस ने उन्हें कोल्हापुर के लिए ट्रेन में सवार होने से रोका था और उनके साथ धक्का-मुक्की भी हुई थी.

सौमैया ने कहा, ‘मेरी शिकायत के आधार पर, जांच भी शुरू हो गई है. ईडी ने मुझसे अतिरिक्त जानकारी मांगी है और मैं उन्हें वह जानकारी दूंगा.’ उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि 98 करोड़ रुपये ‘फर्जी’ कम्पनियों के माध्यम से ‘सर सेनापति संताजी घोरपड़े शुगर फैक्ट्री लिमिटेड’ (जिसमें मुशरिफ के परिवार के सदस्य निदेशक हैं) को हस्तांतरित किए गए थे. उन्होंने मुशरिफ पर घोटाला करने का आरोप लगाया. उन्होंने मुशरिफ पर अप्पा साहेब गढ़िंगलाज सहकारी चीनी मिल में भी 100 करोड़ रुपये का घोटाला करने का आरोप लगाया और कहा कि इससे संबंधित दस्तावेज वह प्रवर्तन निदेशालय को सौंपेंगे.

विधायक मुशरिफ पर लगाए हैं आरोप
कुछ दिन पहले सोमैया ने ग्रामीण विकास मंत्री एवं कोल्हापुर जिले के कागल से विधायक मुशरिफ पर भ्रष्टाचार में संलिप्त रहने तथा रिश्तेदारों के नाम पर ‘बेनामी’ संपत्ति रखने का आरोप लगाया था. मुशरिफ ने सभी आरोपों को खारिज किया है. भाजपा नेता ने कहा कि वो मुशरिफ के खिलाफ 2700 पन्नों की शिकायत के साथ आयकर विभाग, प्रवर्तन निदेशालय और सहकारिता मंत्रालय से संपर्क कर चुके हैं.

SHARE THIS

Author:

Etiam at libero iaculis, mollis justo non, blandit augue. Vestibulum sit amet sodales est, a lacinia ex. Suspendisse vel enim sagittis, volutpat sem eget, condimentum sem.

0 coment rios: