वसूली कांड: परमबीर सिंह के खिलाफ ठाणे पुलिस में एक और मामला दर्ज, जांच के लिए केस सीआईडी को ट्रांसफर

 मुंबई के पूर्व पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह के खिलाफ भ्रष्टाचार और वसूली के कई मामले दर्ज हैं । आयोग के सामने पेश नहीं होने पर परमबीर सिंह के खिलाफ दो जमानती वारंट भी जारी किए गए हैं। परमबीर सिंह ने पूर्व गृहमंत्री अनिल देशमुख पर 100 करोड़ वसूली करने का आरोप भी लगाया था। इस मामले में देशमुख को मंत्री पद भी गंवना पड़ा था। वहीं कोर्ट में मामला चल रहा है।

मुंबई के पूर्व पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह के खिलाफ ठाणे के कोपरी पुलिस स्टेशन में एक और मामला दर्ज किया गया है। डीसीपी पराग मानेरे, बिल्डर संजय पुनामिया, व्यवसायी सुनील जैन और एक मनोज घाटकर और तीन अधिकारियों के खिलाफ जबरन वसूली का मामला दर्ज किया गया है। मामले की जांच सीआईडी को ट्रांसफर कर दिया गया है। इससे पहले मुंबई के मरीन ड्राइव पुलिस स्टेशन में दर्ज एफआईआप सीआईडी को जांच के लिए सौंपी गई थी।


महाराष्ट्र के डीजीपी संजय पांडेय ने राज्य सरकार से पूर्व कमिश्नर परमबीर सिंह और 25 अन्य पुलिस अधिकारियों को सस्पेंड करने की सिफारिश की है। परमबीर सिंह के खिलाफ भ्रष्टाचार और वसूली समेत कई मामले दर्ज हैं। दो मामलों में एसीबी उनके खिलाफ जांच भी कर रही है।

परमबीर सिंह समेत 25 अफसरों को सस्पेंड करने की मांग

वहीं, महाराष्ट्र सरकार ने कहा कि डीजीपी द्वारा ये प्रस्ताव भेजा गया है। हालांकि, सरकार की ओर से इसे वापस भेज दिया गया है और कहा गया है कि जिन अधिकारियों को सस्पेंड करने की मांग की गई है, उसमें अधिकांश के ऊपर कोर्ट में मामले चल रहे हैं। ऐसे में इस प्रस्ताव पर अभी फैसाल नहीं लिया जा सकता।

4 मई से छुट्टी पर हैं परमबीर सिंह

सूत्रों के मुताबिक, स्वास्थ्य कारणों का हवाला देकर परमबीर सिंह 4 मई से छुट्टी पर हैं। 29 अगस्त तक उन्होंने दो बार छुट्टी को बढ़ाया भी है। हालांकि, बाद में उन्होंने कोई जानकारी नहीं दी, ना ही वे ड्यूटी पर वापस लौटे। अभी तक उनकी ओर से इसे लेकर कोई जवाब भी नहीं दिया गया है।

Post a Comment

[blogger]

hindmata mirror

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget