Thursday, 12 August 2021

MAHARASHTRA में तहसीलदार, चतुर्थ श्रेणी के दो कर्मचारी रिश्वत मामले में गिरफ्तार




ठाणे:  भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (एसीबी) की नवी मुंबई इकाई ने बृहस्पतिवार को कहा कि पड़ोसी रायगढ़ जिले के मुरुद के तहसीलदार और चतुर्थ श्रेणी के दो कर्मचारियों को कथित तौर पर 15,000 रुपये की रिश्वत मांगने और स्वीकार करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। एसीबी ने एक बयान में कहा कि तीनों के खिलाफ मुरुद पुलिस थाने में भ्रष्टाचार निरोधक कानून के तहत मामला दर्ज किया गया है। बयान में कहा गया कि तीन आरोपियों की पहचान तहसीलदार गमन रामजी गावित (53) और चपरासी सदाशिव वालांज (52) और रामनाथ पाटिल (47) के रूप में हुई है। आरोपी ने भूमि अभिलेखों में कुछ बदलाव करने के लिए शिकायतकर्ता से 15,000 रुपये की मांग की। इसके बाद शिकायतकर्ता ने भ्रष्टाचार रोधी एजेंसी की नवी मुंबई इकाई से संपर्क किया और अपनी शिकायत दर्ज कराई। इसके आधार पर एसीबी अधिकारियों ने बुधवार शाम को मुरुद तहसील कार्यालय में जाल बिछाया और तहसीलदार की ओर से वालंज द्वारा दिए गए निर्देश के अनुसार पैसे लेते हुए पाटिल को दबोच लिया। मामले की जांच जारी है।

Lorem ipsum is simply dummy text of the printing and typesetting industry.