महाराष्ट्र: जमानत पर रिहाई के बाद फिर एक्शन में नारायण राणे, सिंधुदुर्ग से दोबारा शुरू की जन आशीर्वाद यात्रा


मुंबई. महाराष्ट्र में मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) को ‘थप्पड़ मारने’ की बात कहने के चलते गिरफ्तार हुए केंद्रीय मंत्री नारायण राणे ने जमानत पर रिहा होकर जन आशीर्वाद यात्रा दोबारा शुरू कर दी है. बीते मंगलवार को ही उन्हें महाराष्ट्र पुलिस (Maharashtra Police) ने गिरफ्तार कर लिया था. उन्होंने शुक्रवार को सिंधुदुर्ग से अपनी यात्रा का फिर आगाज किया. सुबह रत्नागिरी पहुंचे राणे ने अपने कार्यक्रम की शुरुआत मराठा राजा छत्रपति शिवाजी की मूर्ति पर माल्यार्पण से की.

राज्य में स्थिति की गंभीरता के मद्देनजर रत्नागिरी में भारी पुलिस व्यवस्था तैनात की गई है. गिरफ्तार हुए राणे करीब 9 घंटे पुलिस हिरासत में रहे थे. बाद में उन्हें महाड कोर्ट की तरफ से जमानत पर रिहा कर दिया गया था. MSME मंत्री राणे भारतीय जनता पार्टी की तरफ से चलाई जा रही जन आशीर्वाद यात्रा के हिस्से के तौर पर कोंकण इलाके में थे. यात्रा में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की कैबिनेट में शामिल हुए नए मंत्री मौजूद हैं.

21 अगस्त से यात्रा की शुरुआत करने वाले राणे को मुंबई और कोंकण क्षेत्र कवर करना था. रायगढ़ के महाड में भाषण के दौरान राणे ने कहा था, ‘यह शर्मनाक है कि मुख्यमंत्री स्वतंत्रता का वर्ष नहीं जानते. वो अपने भाषण के दौरान स्वतंत्रता के वर्ष की गिनती पूछने के लिए पीछे झुके. अगर मैं वहां होता, तो उनको एक जोरदार थप्पड़ मार देता.’ इस बयान के बाद से शिवसेना कार्यकर्ता नाराज हो गए थे.


Post a Comment

[blogger]

hindmata mirror

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget