Friday, 13 August 2021

नकली ब्रांडेड फोन से सावधान! मुंबई क्राइम ब्रांच के हत्थे चढ़े दो लोग, करीब 2 करोड़ का सामान बरामद





मुंबई: मुंबई पुलिस की क्राइम ब्रांच ने बीती रात दो ऐसे लोगों को गिरफ्तार किया है, जो नकली ब्रांडेड फोन की सप्लाई करके ग्राहकों को चूना लगाते थे. ये लोग डुप्लीकेट गैजेट महाराष्ट्र और आसपास के राज्यों में सप्लाई किया करते थे. छापेमारी के दौरान इन लोगों को पास से करोड़ों का लोकल सामान बरामद हुआ है.




2 करोड़ रुपए से ज़्यादा का सामान बरामद
सूत्रों ने बताया है कि मुंबई क्राइम की यूनिट 5 ने छापेमारे की थी और करोड़ों के डुप्लीकेट फ़ोन के एक्सेसरीज बरामद किए हैं. क्राइम ब्रांच के डीसीपी प्रकाश जाधव ने बताया कि हमारी टीम ने देर रात मुंबई के नागपाड़ा और कमाठि पूरा इलाक़े में स्थित दो गोदामों में छापेमारी की और 2 करोड़ रुपए से ज़्यादा की फ़ोन बैटरी, ईयर फ़ोन, चार्जर और दूसरे गैजेट बरामद किए है.
ब्रांडेड कम्पनियों के थी एक्सेसरीज
क्राइम ब्रांच के अधिकारियों ने बताया कि ये सारे डुप्लीकेट गैजेट वीवो, ओपो, रियल मी, ऐपल, बोट के हेड्फ़ोन, सैमसंग, लेनोवो और माइक्रोमैक्स जैसे ब्रांडेड कम्पनियों के थे. इस मामले में पुलिस ने जिन दो लोगों को गिरफ़्तार किया है, उनका नाम मुकेश कुमार पुरोहित और गिरधारीलाल लाल पुरोहित है.
सेल का लालच देकर करते थे ठगी
आरोपियों ने पुलिस को बताया कि ये लोग इन गैजेट्स को मुंबई, पुणे, गुजरात, मध्य प्रदेश के अलग अलग बाज़ार में सप्लाई करते थे. इन लोगों ने बताया कि ये ग्राहकों को ओरिज़िनल और सेल में सस्ता देने का लालच देकर ठगी करते थे. ये लोग इसे मोबाइल के छोटे छोटे सर्विस सेंटर, मॉल, अहमदाबाद, महाराष्ट्र के कई और इलाक़ों में सप्लाई किया करते थे. पुलिस ने लोगों को इस तरह के सामान ख़रीदने से सावधान किया है और कहा है कि ये कभी भी गरम होकर ब्लास्ट हो सकते हैं.

Lorem ipsum is simply dummy text of the printing and typesetting industry.