Thursday, 12 August 2021

महाराष्ट्र में दो निर्माण कंपनियों के अधिकारियों सहित 18 लोगों के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज



अलीबाग: महाराष्ट्र के रायगढ़ जिले की कर्जत तहसील में विभिन्न आवासीय परियोजनाओं में निवेश करने वाले लोगों को कथित रूप से ठगने के आरोप में दो निर्माण कंपनियों के अधिकारियों सहित 18 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। पुलिस ने बृहस्पतिवार को यह जानकारी दी। रायगढ़ के पुलिस अधीक्षक अशोक दुधे ने एक बयान में कहा कि कर्जत थाने में बुधवार को गोपी रिसार्ट प्राइवेट लिमिटेड और तानाजी मालुसरे सिटी शेल्ट्रेक्स कर्जत प्राइवेट लिमिटेड के खिलाफ मामला दर्ज किया गया। वर्ष 2008 में गोपी रिसार्ट ने कर्जत के एक गांव में 104 एकड़ जमीन खरीदी थी। कंपनी ने घोषणा की थी कि वह समाज के आर्थिक रूप से कमजोर वर्गों के लिए तानाजी मालुसरे सिटी नामक आवासीय परियोजना विकसित करेगी। पुलिस ने बताया कि 2008 से 2019 के बीच कुल 4,157 लोगों ने इस परियोजना में 191 करोड़ रुपये का निवेश किया। कुल राशि में से 1,086 निवेशकों ने विभिन्न बैंकों से 56 करोड़ रुपये का कर्ज लिया था। कंपनी ने 2013 तक फ्लैटों का कब्जा देने का वादा किया था। हालांकि, 3,340 लोगों ने शिकायत की कि उन्हें अब तक फ्लैट नहीं मिले हैं। पुलिस ने बताया कि वर्ष 2008 से 2013 के बीच, परियोजना में कुछ इमारतों का निर्माण किया गया था लेकिन घटिया गुणवत्ता के कारण उन्हें गिराना पड़ा। फिलहाल 22 इमारतें तैयार हैं जिनमें 839 फ्लैट और दुकानें हैं। बयान के अनुसार कई निवेशकों की शिकायत पर रायगढ़ पुलिस ने भारतीय दंड संहिता की विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया है।

Lorem ipsum is simply dummy text of the printing and typesetting industry.