Monday, 12 July 2021

एक्सप्रेस ट्रेनों से विदेशी सिगरेट की तस्करी, RPF और सीमा शुल्क विभाग ने किया पर्दाफाश




मुंबई (Mumbai) . कोरोनाकाल में भी सतर्क पश्चिम रेलवे (Railway)आरपीएफ और सीमा शुल्क विभाग ने एक्सप्रेस ट्रेनों के जरिए की जा रही विदेशी सिगरेट की तस्करी का पर्दाफाश किया है. इस कार्रवाई में मुंबई (Mumbai) के बांद्रा टर्मिनस स्टेशन से करीब 260 किग्रा विदेशी सिगरेट की खेप बरामद की गई है जो ट्रेन के पार्सल कोच में छुपाकर रखी गई थी. पश्चिम रेलवे (Railway)के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी सुमित ठाकुर ने इस कार्रवाई की पुष्टि करते हुए बताया कि बांद्रा टर्मिनस में आरपीएफ इकाई को एक इनपुट प्राप्त हुआ कि ट्रेन नम्बर 09020 हरिद्वार (Haridwar) -बांद्रा टर्मिनस स्पेशल के लीज़िंग पार्सल स्पेस में प्रतिबंधित सामग्री ले जाई जा रही है.
ठाकुर ने बताया कि ट्रेन में प्रतिबंधित सामग्री के होने की इस सूचना पर अमल करते हुए आरपीएफ की टीम ने तत्काल कार्रवाई की और उक्त पार्सल को जब्त करने के लिए बांद्रा टर्मिनस स्टेशन पर पहुंची. इस कार्रवाई में आरपीएफ के द्वारा एक्सप्रेस ट्रेन के पार्सल कोच से कुल 27 पार्सल जब्त किए गए. इतनी बड़ी मात्रा में पार्सल जप्त करने में बाद इसकी जानकारी सीमा शुल्क विभाग को दी गई. सीमा शुल्क विभाग के कर्मियों के आने के बाद आरपीएफ और पार्सल अधिकारी की मौजूदगी में खोला गया. खोलने के दौरान, यह पाया गया कि उनमें विदेशी ब्रांड की सिगरेट थी, जिसे सीओटीपी नियमों का उल्लंघन करके भारत में तस्करी के ज़रिए लाया गया था, जो पैकेटों पर सचित्र चेतावनी की छपाई को अनिवार्य करता है. उक्त अवैध सामग्री को आगे की प्रक्रिया के लिए जब्त कर लिया गया है. ये सिगरेट विभिन्न ब्रांडों जैसे मार्लबोरो गोल्ड, डनहिल, एस्से लाइट व्हाइट, एस्से चेंज ब्लू, एस्से गोल्ड लीफ ब्लैक और बेन्सन एंड हेजेज से सम्बंधित हैं. लगभग 260 किलोग्राम वजन वाले सिगरेट की कुल 1226 स्लीव्ज़ जब्त की गईं. फिलहाल इस पूरे मामले की जांच आरपीएफ और सीमा शुल्क विभाग कर रही है.

Lorem ipsum is simply dummy text of the printing and typesetting industry.