maharashtra के ग्रामीण इलाकों में जल्द खुलेंगे स्कूल, जिन गांवों में कोरोना के एक भी मामले नहीं वहीं लागू होगी व्यवस्था- शिक्षा मंत्री


महाराष्ट्र की स्कूल शिक्षा मंत्री वर्षा गायकवाड ने कहा कि मध्य जुलाई से महाराष्ट्र मे स्कुल खुलेंगे. तरीख की बात की जाए तो 12 से 15 जुलाई के बीच स्कूल खुल सकते हैं. उन्होंने कहा कि स्कूल सिर्फ उन्हीं गांवों में खुलेंगे जहां कोरोना का एक भी मामला नहीं है. 8वीं से 12वीं तक के छात्रों के लिए फिलहाल स्कुल खोले जाएंगे. शहरी इलाकों में स्कूल अभी नही खुलेंगे.  राज्य की शिक्षा मंत्री वर्षा गायकवाड ने कहा, पिछला पूरा साल बच्चों के लिए काफी मुश्किल था. स्कूलों में काफी चीजें नए सिरे से शुरू की थी. अब संभावित तीसरी लहर में सबसे ज्यादा बच्चों के प्रभावित होने की बात सामने आ रही है और डेल्टा प्लस वेरिएंट भी आया है. इस को ध्यान में रखकर हम स्कूल खोलने की तैयारी कर रहे हैं.
उन्होंने कहा कि अभी सभी जगहों पर स्कूल नहीं खुलेंगे. सिर्फ ग्रामीण इलाकों में स्कूल खुलेंगे और सिर्फ उन गांवों में खुलेंगे जहां 1 महीने से कोरोना का कोई भी नया मामला न आया हो. इसके साथ ही जो गांव यह जिम्मेदारी लेंगे कि कोरोना से लड़ने के लिए वह साथ में खड़े हैं उन्हीं जगहों पर स्कूल खोले जाएंगे. कक्षा 8-12 के बच्चों के लिए स्कूल खुलेंगे क्योंकि ये बच्चे समझदार होते हैं, उन्हें सोशल डिस्टेंसिंग का महत्व पता होता है और उन्हें नियमों को ज्यादा समझाने की जरूरत नहीं होती. वह मास्क रखते हैं, बार-बार हाथ धोते हैं. इंटर और हाई स्कूल में पहुंचने वाले बच्चों का बेस क्लियर रहे इसलिए भी कक्षा 9 और 11 की कक्षाएं चलेंगी.

उन्होंने आगे बताया कि पिछले साल कुछ दिनों के लिए स्कूल खुले थे. उस समय गाइडलाइन का पालन कराना छोटे बच्चों के लिए बहुत मुश्किल हो गया था. इसके साथ ही उन गांवों को प्राथमिकता दी जा रही है जहां नेटवर्क खराब है या कनेक्टिविटी नहीं है.

Post a Comment

[blogger]

hindmata mirror

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget