Wednesday, 14 July 2021

Drugs Smuggling: मुंबई में NCB की बड़ी कार्रवाई, अंतरराष्ट्रीय ड्रग सिंडिकेट के कॉल सेंटर मॉड्यूल का भंडाफोड़


मुंबई: ड्रग तस्करी के खिलाफ जारी कार्रवाई में नार्कोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (NCB) को एक बड़ी सफलता मिली है। एनसीबी ने एक ऐसे अंतरराष्ट्रीय ड्रग्स सिंडिकेट का भंडाफोड़ किया है, जो ड्रग्स तस्करी के लिए कॉल सेंटर मॉड्यूल का इस्तेमाल करता था। इस मामले में NCB ने एक नाइजीरिया (Nigeria) के एक नागरिक को भी गिरफ्तार किया है, जिसके पास से बड़ी मात्रा में अवैध ड्रग की खेप बरामद की गई।

जानकारी के मुताबिक एनसीबी को अपने सूत्रों से गोपनीय जानकारी मिली थी कि ड्रग तस्कीर के लिये मुंबई और उसके आस-पास के इलाकों में एक सिंडिकेट चलाया जा रहा है, जो नाइजीरिया से ऑपरेट होता है। कॉल सेंटर मॉड्यूल के जरिये चलने वाले इस सिंडिंकेट से जुड़े लोग ऑर्डर के मुताबिक ड्रग उपलब्ध कराते हैं। ड्रग्स तस्करी के इस कॉल सेंटर के नाइजीरिया से चलाने की जानकारी सामने आई।

इस सूचना पर काम करते हुए एनसीबी को जानकारी मिली कि चोक्यु इमेका ऑगबोमा उर्फ माइकल नामक नाइजीरियन शख्स मुंबई से सटे नालासोपारा और उसके आस-पास के इलाके में बड़ी मात्रा में कोकीन ड्रग्स सप्लाई करता है। इस जानकारी के मिलते ही नालासोपारा इलाके में एनसीबी ने ट्रैप लगाया और ड्रग्स पेडलर ऑगबोमा को कोकीन की खेप के साथ गिरफ्तार कर लिया।

मुंबई एनसीबी के जॉइंट डायरेक्टर समीर वानखेड़े ने बताया कि अगर भारत मे किसी को ड्रग्स चाहिए होती थी तो वह डायरेक्ट नाइजीरिया से चल रहे इस ड्रग्स कॉल सेन्टर में कॉल करता था। कॉल करने के बाद सिंडिकेट चलाने वाले लोग आर्डर बुक करते थे और फिर मुंबई में बैठे अपने सदस्यों के जरिए आर्डर देने वाले ग्राहकों को ड्रग्स की सप्लाई करवाते थे।

जानकारी के मुताबिक इस सिंडिकेट को चलाने वाले लोग बड़ी ही शातिर तरीक़े से ड्रग्स सप्लाई को अंजाम देते थे। एनसीबी ने इस मॉड्यूल का भंडाफोड़ कर जिस नाइजीरियन नागरिक को गिरफ्तार किया, उससे पूछताछ जारी है।


Lorem ipsum is simply dummy text of the printing and typesetting industry.