लेफ्टिनेंट जनरल माधुरी कानितकर बनीं महाराष्ट्र स्वास्थ्य विज्ञान विश्वविद्यालय की कुलपति



महाराष्ट्र के राज्यपाल व राज्य के विश्वविद्यालयों के कुलाधिपति भगत सिंह कोश्यारी ने लेफ्टिनेंट जनरल माधुरी राजीव कानितकर को महाराष्ट्र स्वास्थ्य विज्ञान विश्वविद्यालय का कुलपति नियुक्त किया है. एक अधिकारी ने मंगलवार को यह जानकारी दी. राजभवन के एक अधिकारी ने विज्ञप्ति में कहा कि लेफ्टिनेंट जनरल कानितकर, पीवीएसएम, एवीएसएम को 5 वर्ष की अवधि या 65 वर्ष की आयु प्राप्त करने तक कुलपति के रूप में नियुक्त किया गया है. वह रक्षा मंत्रालय में इंटीग्रेटेड डिफेंस स्टाफ (मेड) में उप प्रमुख के रूप में कार्यरत हैं.

विज्ञप्ति में कहा गया है, ”लेफ्टिनेंट जनरल कानितकर का जन्म 15 अक्टूबर 1960 को हुआ था. उन्होंने पुणे के सशस्त्र बल मेडिकल कॉलेज से एमबीबीएस की डिग्री हासिल की थी और विश्वविद्यालय में टॉप किया था. उन्होंने एमडी पीडियाट्रिक्स और डीएनबी पीडियाट्रिक्स की भी डिग्री प्राप्त की. उन्होंने जनवरी 2017 से मई 2019 तक एएफएमसी डीन के रूप में कार्य किया और उन्हें शिक्षण और अनुसंधान में 22 वर्षों का अनुभव है. उन्हें 2008 में एमयूएचएस द्वारा सर्वश्रेष्ठ शिक्षक का पुरस्कार प्रदान किया गया था.” वह डॉक्टर दिलीप म्हासेकर की जगह लेंगी, जिनका कार्यकाल 10 फरवरी को खत्म हो चुका है. सशस्त्र बलों की पहली प्रशिक्षित बाल रोग विशेषज्ञ, कानिटकर, जिन्होंने अकेले अपने दम पर पुणे और दिल्ली में बच्चों में किडनी की बीमारियों की निगरानी के लिए यूनिट बनाई थी.

Post a Comment

[blogger]

hindmata mirror

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget