Wednesday, 7 July 2021

महाराष्ट्र के इतिहास में पहली बार आयोजन, मां वालधुनी का स्वागत और नदी को साड़ी समर्पण



 अम्बरनाथ के तावली पहाड़ों से उगम होकर, बोहोनोली गांव से होते हुये जिआईपीआर डैम में समाकर डैम के ओवरफ्लो से मात्र बरसातकाल में प्रवाहित होनेवाली वालधुनी नदी माता का स्वागत करते हुये नदी पुजन होगा और वालधुनी नदी माता को 7 रंग की 7 साड़ियां प्रतीकात्मक पहनाई जाएंगी और उन साड़ियों को हमारी नदी की रक्षक बोहोनोली और काकोले ग्रामस्थ बहनों को समर्पित की जायेगी।



आज 7 जुलाई शाम 5 बजे काकोले गांव जिआईपीआर डैम, वालधुनीमाता के उगमस्थान पर 35 मीटर की साड़ीयां ओढ़ाकर सोलह शृंगार करते हुये अभिषेक व पूजन अर्चन भी होगा। पश्चात यह 7 रंग की 7 साड़ियां जो हमारे समाजसेवी मित्र श्री सत्यवान जी द्वारा दी गयी है,  हमारी 7 ग्रामस्थ बहनों को समर्पित की जाएगी।

काकोले ग्रामपंचायत और वालधुनी नदी बिरादरी की तरफ से महाराष्ट्र के इतिहास में पहली बार 7 वे महीने के  7 वे दिन 7 रंग की 7 साड़ियां नदी को समर्पण यह आयोजन हो रहा है।

Lorem ipsum is simply dummy text of the printing and typesetting industry.