thane में बढ़े अवैध निर्माण को लेकर महापौर नाराज, महानगरपालिका प्रशासन से मांगा जवाब



ठाणे. ठाणे महानगरपालिका (Thane Municipal Corporation) क्षेत्र में कोरोना काल के दौरान ठाणे शहर (Thane City) और उसके बाहर अवैध निर्माणों (Illegal Constructions) को लेकर महापौर नरेश म्हस्के (Mayor Naresh Mhaske) ने नाराजगी जताते हुए महानगरपालिका प्रशासन से जवाब मांगा हैं। महापौर ने इस संदर्भ में एक पत्र (Letter)महानगरपालिका कमिश्नर डॉ. विपिन शर्मा को लिखा है और पूछा है कि पिछले कुछ महीनों में अवैध निर्माण को लेकर कई शिकायतें मिली हैं और कुछ जनप्रतिनिधि आम सभा की बैठक में भी अवैध निर्माण का मुद्दा उठा रहे हैं। इसकी वास्तविकता क्या है? साथ ही महापौर ने पत्र में कहा है कि यदि कहीं पर अवैध निर्माण हो रहा है तो ऐसे निर्माणों पर तत्काल कार्रवाई की जाए और प्रशासन को ठाणे महानगरपालिका की छवि सुधारने का प्रयास करना चाहिए। ठाणे में अवैध निर्माण का मामला एक बार फिर सामने आया है। केवल नागरिकों की नहीं, बल्कि जनप्रतिनिधियों को भी भारी संख्या में शिकायतें मिल रही हैं जिससे ठाणे महानगरपालिका की छवि धूमिल हो रही है।
महापौर ने कहा कि अच्छा कार्य करने के बाद भी अवैध निर्माण का मुद्दा उठाकर बदनाम किया जा रहा है तो अवैध निर्माणों के तथ्य को स्पष्ट करना आवश्यक है, इसलिए उन्होंने प्रशासन को निर्देश दिए हैं कि वे उन जगहों पर जाकर निरीक्षण करें जहां इस तरह के अवैध निर्माण की सूचना मिल रही है। महानगरपालिका कमिश्नर को लिखे पत्र में महापौर ने स्पष्ट किया है कि ऐसे निर्माणों के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए संबंधित अधिकारियों को आदेश जारी किए जाएं जहां अवैध निर्माण हो रहे हैं। यह देखना महत्वपूर्ण होगा कि महापौर के पत्र के बाद महानगरपालिका कमिश्नर ऐसे अवैध निर्माणों पर कैसे कार्रवाई करते हैं।

Post a Comment

[blogger]

hindmata mirror

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget