Wednesday, 23 June 2021

Mumbai : KRK पर फिर चला कोर्ट का चाबुक, सलमान खान के खिलाफ मुंह बंद रखने का आदेश



फिल्म राधे के रिव्यू के बाद केआरके और सलमान खान के बीच की जंग थमने का नाम नहीं ले रही है. केआरके के खिलाफ सलमान खान ने मानहानि का केस जब से दायर किया है तब से केआरके और मुखर होकर सलमान खान के खिलाफ बोल रहे हैं. वो रोजाना अपने यूट्यूब चैनल पर और सोशल मीडिया पर सलमान खान के बारे में ऐसी-ऐसी बातें कर रहे हैं जिन्हें सुनकर सभी को ताज्जुब हो रहा है कि ये जंग पता नहीं कहां जाकर खत्म होगी.
सलमान ने केआरके की जुबान पर लगाम लगाने के लिए फिर से आज कोर्ट का दरवाजा खटखटाया जिसके बाद आज मुंबई की सिविल कोर्ट ने केआरके को आदेश जारी कर दिया है कि अब वो सलमान खान के खिलाफ अपना मुंह बिल्कुल बंद रखेंगे. न तो उनकी फिल्मों के बारे में कुछ कहेंगे, न पर्सनल लाइफ पर और न ही उनके बिजनेस के बारे में ही कुछ भला बुरा बोलेंगे. कोर्ट ने कहा कि जब तक ये केस चल रहा है तब तक केआरके सलमान का नाम तक लेने से बचें.
केआरके ने छेड़ रखी है मुहिम
जब से सलमान की टीम ने केआरके को कोर्ट में घसीटा है तब से केआरके उनसे इतना चिढ़ गए हैं कि वो दिन में कई बार सलमान के खिलाफ ट्वीट्स करते हैं. वो खुद को बॉलीवुड का नंबर वन क्रिटिक बताते हैं और अपने रिव्यू को सबसे सच्चा बताकर अपने फैंस को बरगलाते हैं.
मीका से गाली गलौच
सिंगर मीका सिंह भी सलमान और केआरके की इस लड़ाई में कूदे और उन्होंने केआरके को गाली देते हुए एक गाना लॉन्च किया. इसके जवाब में केआरके ने भी एक गाना दागा जिसमें मीका को गालियां दी गई थीं. केआरके का स्तर इतना गिरता जा रहा है कि वो सीधे-सीधे गालियों पर उतर आए हैं. उनका ट्विटर हैंडल इस तरह के पोस्ट से भरा पड़ा है. सलमान ने उनकी ऐसी ही हरकतों पर लगाम लगाने के लिए एक बार फिर कोर्ट का रुख किया जिसके बाद कोर्ट ने सलमान के पक्ष में अंतरिम आदेश जारी कर दिया है.
सलमान क्यों हैं नाराज
केआरके ने 12 मई को सलमान की फिल्म राधे का एक रिव्यू किया था. जिसमें वो इंटरवेल के बाद रोते नजर आ रहे थे और उन्होंने कहा कि सलमान की फिल्म राधे इतनी खराब है कि वो उसे इंटरवेल के बाद देखना नहीं चाहते. ऐसा कहते हुए केआरके रोने लगे. हालांकि ये सब ड्रामा ही नजर आ रहा था. इसके बाद सलमान ने पुराने कई मामलों के इकट्ठा करके केआरके को कोर्ट के कटघरे में खड़ा कर दिया.

Lorem ipsum is simply dummy text of the printing and typesetting industry.