Saturday, 26 June 2021

100 करोड़ वसूली मामला: एक करता था डील, दूसरा गिनता था कैश, ED ने अनिल देशमुख के दोनों PA को किया गिरफ्तार



मुंबई के पूर्व पुलिस आयुक्त परमबीर सिंह द्वारा पूर्व गृहमंत्री अनिल देशमुक पर लगाए गए 100 करोड़ रुपए की वसूली मामले की जांच ED कर रही है. ऐसा माना जा रहा है कि इस जांच में ईडी के हाथ कई सबूत लगे हैं. ईडी द्वारा बार मालिकों से पूछताछ में कुछ ने 4 करोड़ रुपए देशमुख को दिए जाने की बात कबूल की है.
इस खुलासे के बाद अनिल देशमुख की मुश्किलें बढ़ गई हैं. जांच और पूछताछ के लिए ईडी ने कल ही (25 जून) को अनिल देशमुख के पर्सनल सेक्रेट्री संजीव पालांडे और पीए कुंदन शिंदे को हिरासत में लिया था. लेकिन ये दोनों ईडी अधिकारियों के साथ पूछताछ में सहयोग नहीं कर रहे थे. इसलिए इन दोनों को फिर अरेस्ट किया गया.
देशमुख के हर धंधे में पालांडे और शिंदे का था अहम रोल
ईडी की अब तक की जांच में अनिल देशमुख के ये दोनों पीए भी दोषी समझे जा रहे हैं. जो पैसों की लेन-देन हुआ करती थी, उसमें संजीव पालांडे और कुंदन शिंदे का अहम रोल होता था. ईडी अधिकारियों की जांच में यह बात सामने आ रही है. अनिल देशमुख के ये पर्सनल सेक्रेट्री और पीए मिलकर सारे धंधे निपटाते थे. ईडी का दावा है कि इनमें से पहला डील करता था, दूसरा कैश वसूलता था. ईडी द्वारा देशमुख के इन दोनों सहायकों से पूछताछ और जांच शुरू है. अब ईडी अनिल देशमुख से भी फिर पूछताछ करेगी.

Lorem ipsum is simply dummy text of the printing and typesetting industry.