Exclusive: डोमिनिका की जेल में बंद भगोड़े हीरा कारोबारी मेहुल चौकसी की पहली तस्वीर सामने आई; आंख लाल और हाथ पर चोट के निशान

 

सलाखों में कैद मेहुल चौकसी की फोटो। उसकी बाईं आंख काफी लाल दिखाई दे रही है, वह काफी डरा हुआ भी नजर आ रहा है। - Dainik Bhaskar
सलाखों में कैद मेहुल चौकसी की फोटो। उसकी बाईं आंख काफी लाल दिखाई दे रही है, वह काफी डरा हुआ भी नजर आ रहा है।

करोड़ों रुपए के पंजाब नेशनल बैंक (PNB) घोटाले का आरोपी और भगोड़े हीरा कारोबारी मेहुल चौकसी की डोमिनिका के जेल से पहली तस्वीर सामने आई है। सलाखों के पीछे कैद चौकसी स्काई कलर के टी-शर्ट में दिख रहा है। उसके चेहरे पर डर और भय साफ देखा जा सकता है। सबसे बड़ी बात है कि उसके बाएं आंख में चोट के निशान दिख रहे हैं। उसकी आंख लाल है। साथ ही उसके हाथ में भी चोट के निशान देखे जा सकते हैं।

डोमिनिका की कैबिनेट ने मेहुल चौकसी से जुड़े मसले पर चर्चा की है। इसमें मेहुल के डोमिनिका में मौजूदगी पर भी बात की गई।कैबिनेट ने तय किया है कि चौकसी के बारे में अब डोमिनिका की हाई कोर्ट ही फैसला करेगी, जहां उसके वकील ने राहत के लिए याचिका दायर की है।

सलाखों के पीछे से अपना हाथ दिखाता मेहुल चौकसी।
सलाखों के पीछे से अपना हाथ दिखाता मेहुल चौकसी।

नागरिकता को लेकर डोमिनिका सरकार ने एंटीगुआ से मांगी है जानकारी
डोमिनिका की सरकार ने बुधवार को बताया था कि नेशनल सिक्योरिटी मिनिस्ट्री ने एंटीगुआ सरकार से मेहुल चौकसी की नागरिकता और कुछ अन्य तथ्यों को लेकर जानकारी मांगी हैं। चौकसी अवैध तरीके से डोमिनिका में आया था। अभी वह हमारी कस्टडी में है, उससे पूछताछ की जा रही है। सारी जानकारी मिलते ही उसे एंटीगुआ के हवाले कर दिया जाएगा। इससे पहले एंटीगुआ-बारबुडा के प्रधानमंत्री गेस्टन ब्राउन ने चौकसी को भारत के हवाले करने को कहा था। हालांकि डोमिनिका ने जांच के बाद ही फैसले की बात कही है।

चौकसी ने लगाया था अपहरण और मारपीट का आरोप
दो दिन पहले मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, डोमेनिका में चौकसी के वकील मार्श वेन ने कहा कि सुबह उन्होंने अपने क्लांइट से पुलिस स्टेशन में मुलाकात की है। वकील के मुताबिक चौकसी ने आरोप लगाया कि उसे डोमिनिका में अपहरण कर लाया गया है। चौकसी ने अपने साथ मारपीट का भी आरोप लगाया है। चौकसी के वकील मामले में राहत के लिए अदालत में अपील दाखिल करने वाले हैं।

हाथ पर चोट के निशान दिखाता मेहुल चौकसी।
हाथ पर चोट के निशान दिखाता मेहुल चौकसी।

क्यूबा भागने की फिराक में था चौकसी
चौकसी मंगलवार, 25 मई को डोमिनिका में पकड़ा गया था। एंटीगुआ मीडिया ने अपनी रिपोर्ट में दावा किया कि 62 साल का चौकसी डोमिनिका से क्यूबा भागने की फिराक में था, उसी दौरान उसे CID ने दबोच लिया। सूत्रों के मुताबिक, वह एंटीगुआ और बारबुडा से बोट के जरिए डोमिनिका पहुंचा था।

इंटरपोल ने जारी किया था यलो नोटिस
चौकसी कुछ दिन पहले एंटीगुआ और बारबुडा से लापता हो गया था। इसके बाद इंटरपोल ने उसके खिलाफ यलो नोटिस जारी किया था। बाद में इसी नोटिस को एंटीगुआ सरकार ने भी रिटेन किया। इसके बाद उसकी तलाश तेज कर दी गई। डोमिनिका की लोकल मीडिया रिपोर्ट्स में कहा गया है कि चौकसी को मंगलवार रात पकड़ा गया।

डोमिनिका हाईकोर्ट में चौकसी के वकीलों ने लगाई याचिका
चौकसी के मामले की सुनवाई डोमिनिका के हाईकोर्ट में चल रही है। यहां के जस्टिस बिर्नी स्टीफेंसन ने चौकसी के मामले में शामिल वकीलों को निर्देश जारी किया है। जस्टिस बिर्नी ने सभी वकीलों को गैग ऑर्डर जारी किया है। इसके तहत वकील सार्वजनिक रूप से कोई भी जानकारी या टिप्पणी नहीं कर सकेंगे। चौकसी के वकीलों ने 27 मई को एक याचिका लगाई है जिसमें डोमिनिका पुलिस बल (CDPF) के द्वारा उनके क्लाइंट से नहीं मिलने देने और डोमिनिका अथॉरिटी द्वारा उन्हें एंटीगुआ भेजने को लेकर सुनवाई चल रही है।

Post a Comment

[blogger]

hindmata mirror

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget