Maharashtra में आएगी कोरोना संक्रमण की तीसरी लहर, ये है वजह

 


मुंबई: महाराष्ट्र में कोरोना वायरस का संक्रमण तेजी से बढता चला जा रहा है। ऐसे में बीते बुधवार को कोरोना संक्रमण के 63,309 नए मामले आए और इस संक्रमण से 985 और लोगों की मौत हो गयी। अगर स्वास्थ्य विभाग की मानें तो नए मामलों के साथ संक्रमितों की संख्या 44,73,394 और मृतक संख्या 67,214 हो चुकी है। इसी के साथ बीते 24 घंटे के दौरान कुल 61,181 मरीजों को छुट्टी मिली है। कहा जा रहा है अब तक 37,30,729 कोरोना संक्रमित मरीज ठीक हो चुके हैं। इस समय महाराष्ट्र में 6,73,481 मरीज हैं जो इलाजरत हैं। अगर हम मुंबई के बारे में बात करें तो यहां 4966 नए मामले आए और 78 लोगों की मौत हो गयी।

जी दरअसल बृहन्मुंबई महानगरपालिका (बीएमसी) ने यह जानकारी दी है कि नए मामलों के साथ संक्रमितों की संख्या 6,40,507 हो गयी जबकि मृतकों की संख्या 12,990 हो गयी है। केवल यही नहीं बल्कि BMC का कहना है बीते 24 घंटे के दौरान 5300 मरीजों को अस्पतालों से छुट्टी दे दी गयी। शहर में अब तक 5,60,401 कोरोना संक्रमित मरीज ठीक हो चुके हैं। इस समय महाराष्ट्र में वैक्सीनेशन की गति बहुत धीमी है जिसके चलते राज्य में संक्रमण की तीसरी लहर आने का खतरा है। यह चेतावनी स्वास्थ्य विशेषज्ञों ने दी है।

हाल ही में महाराष्ट्र सरकार ने कहा कि वह पर्याप्त संख्या में वैक्सीन उपलब्ध नहीं होने के कारण 18 से 44 वर्ष के लोगों का वैक्सीनेशन एक मई से शुरू नहीं करने जा रही है। इसी को देखते हुए राज्य स्वास्थ्य विभाग के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि ''महाराष्ट्र में वैक्सीन लगाने योग्य नौ करोड़ लोगों में से महज 1.50 करोड़ लोगों को अभी तक वैक्सीन लग सका है, जो बहुत कम है। यदि हमने वैक्सीनेशन की गति तेज नहीं की तो जब लोग नौकरी या अन्य कामों के लिए बाहर निकलेंगे तो इससे कोरोना संक्रमण की तीसरी लहर आ सकती है।''

Post a comment

[blogger]

hindmata mirror

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget