Friday, 23 April 2021

चोर हो तो ऐसा। corona vaccine

 


जींद. देश में बढ़ते कोरोना वायरस संक्रमण के बीच हरियाणा के जिंद से कोरोना वैक्‍सीन चोरी होने का मामला सामने आया था. चोर ने कोविशील्ड (covishield) के 182 और कोवैक्सीन (covaxine) के 440 डोज चुरा लिए थे. हालांकि गुरुवार को चोर ने वैक्‍सीन लौटा दी है. जींद सिविल लाइन पुलिस स्टेशन के बाहर एक चाय की दुकान पर वह वैक्‍सीन को छोड़ गया था. उसने इस बारे में एक नोट छोड़ा, जिसमें लिखा था, 'सॉरी, मुझे नहीं पता था कि यह कोरोना वैक्सीन है.' पुलिस का कहना है कि इस चोर की पहचान के कुछ सुराग मिले हैं.


यह मामला हरियाणा के जींद जिले का है. बुधवार रात 12 बजे यहां के सिविल हॉस्पिटल के पीपी सेंटर से कोविड-19 वैक्सीन के 1710 डोज की चोरी की सूचना मिली थी. लेकिन आज दिन में तकरीबन 12 बजे चोर ने वैक्सीन की चुराई गई डोज लौटा दी. पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक चोर ने कोविशील्ड के 182 और कोवैक्सीन के 440 डोज जींद सिविल लाइंस पुलिस स्टेशन के बाहर की चाय दुकान पर रख दिए


चोर ने कोविड-19 वैक्सीन के इस डोज के साथ ही एक माफीनामा भी छोड़ा है. बताया गया कि आज दिन में 12 बजे चोर ने सिविल लाइन थाने के बाहर चाय की दुकान पर बैठे बुजुर्ग को एक थैला सौपा और कहा कि ये थाने के मुंशी का खाना है. थैला सौंपकर वह तुरंत फरार हो गया. तब चायवाले ने वह थैला पुलिस के पास पहुंचाया. वहां जब थैला खोला गया तो उसमें चोरी हुए कोविड-19 वैक्सीन के डोज के साथ दो लाइन का माफीनामा भी था. चोर ने लिखा था कि सॉरी, मुझे नहीं पता था कि ये कोरोना की वैक्सीन है.

जींद पुलिस के डीएसपी जितेंद्र खटकड़ ने प्रेस वार्ता कर ये जानकारियां दीं. उन्होंने बताया कि इस मामले में पुलिस ने अज्ञात लोगों के खिलाफ 457 और 380 IPC के तहत मामला दर्ज किया है. उन्होंने यह भी कहा कि हो सकता है चोर ने रेमडेसिविर इंजेक्शन के चक्कर में गलती से कोरोना वैक्सीन उठा ली हो.

Lorem ipsum is simply dummy text of the printing and typesetting industry.