Wednesday, 24 March 2021

'घूसखोरी' के टॉप सीक्रेट डॉक्यूमेंट में उद्धव-आदित्य और pawar का नाम



मुंबई: महाराष्ट्र में एंटीलिया केस और वसूली कांड के बीच एक और नए मामला उजागर हो रहा है। यह नया खुलासा महाराष्ट्र में खाकी और खादी के नेक्सस पर बड़ा सवाल खड़ा हो रहा है। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, महाराष्ट्र में बढ़े स्तर पर ट्रांसफर पोस्टिंग रैकेट का खुलासा हुआ है। जिसमें महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे और उनके बेटे आदित्य का नाम भी उजागर हुआ है।
पूर्व सीएम देवेंद्र फडणवीस के ट्रांसफर रैकेट के सामने आने के बाद, ऐसे दस्तावेज़ सामने आए जिसमें NCP चीफ शरद पवार से लेकर मौजूदा सीएम उद्धव ठाकरे तक के नाम शामिल है। टॉप सीक्रेट डाक्यूमेंट से खुलासा हुआ है कि DCP सचिन पाटिल के नाशिक तबादले के लिए संतोष जगताप नाम के एजेंट ने आदित्य ठाकरे से लेकर अनिल देशमुख और अजित पवार से लेकर शरद पवार तक से मुलाकात की थी। बाद में शरद पवार ने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को व्हाट्सएप मैसेज कर सचिन पाटिल के तबादले के लिए कहा था।
बता दें कि महाराष्ट्र की तत्कालीन इंटेलिजेंस कमिश्नर रश्मि शुक्ला ने 20 अगस्त 2020 को महाराष्ट्र के DGP को एक सीक्रेट इंफॉर्मेशन भेजी थी जिसमें लिखा था कि महादेव इंगले नाम के व्यक्ति का नंबर 29 जुलाई 2020 से सर्विलांस पर रखा गया था। इसके साथ ही उसकी हर हरकत पर निगाह रखी जा रही थी।

Lorem ipsum is simply dummy text of the printing and typesetting industry.