mumbai: फर्जी डॉक्टर सर्टिफिकेट के जरिए वैक्सीन लगवाने की कोशिश, वैक्सीनेशन सेंटर में अलर्ट



मुंबई. मुंबई (Mumbai) में बढ़ते कोरोना संक्रमण के मामलों के बीच वैक्‍सीनेशन सेंटर्स (Corona Vaccine) में मेडिकल स्‍टाफ को एक और परेशानी का सामना करना पड़ रहा है. यहां लोग फर्जी डॉक्‍टर सर्टिफिकेट के जरिये टीका लगवाने की कोशिश कर रहे हैं. दरअसल इस समय देश में टीकाकरण का दूसरा चरण चल रहा है. इसमें 60 साल से अधिक उम्र के बुजुर्गों और 45 साल से अधिक उम्र के उन लोगों को वैक्‍सीन लगाई जा रही है जो गंभीर बीमारी से ग्रस्‍त है. 45 साल से अधिक उम्र वालों के पास इसके लिए डॉक्‍टर का सर्टिफिकेट होना अनिवार्य है.
हालांकि इसका फायदा उठाकर कुछ लोग जल्दी टीका लगवाने के चक्कर में डॉक्टर के फेक सर्टिफिकेट लेकर आ रहे हैं और अपने आपको बीमार बता रहे हैं. लेकिन हर सेंटर पर डाक्टर की टीम है जो डाक्यूमेंट चेक कर रही है. डाक्टर रोहन बताते हैं कि हम पूरी तरीके से संतुष्ट होने के बाद ही ये टीका दे रहे हैं हालांकि कुछ लोग इस तरीके का प्रयास कर रहे हैं जो पकडे़ जा रहे हैं. सरकार द्वारा कोरोना का टीका जल्दी से जल्दी लगाने पर जोर चल रहा है. मुंबई में जिस तरीके से केस बढ़ रहे हैं उसको देखते हुए इस तरीके का फर्जीवाड़ा जारी है. जहां पर डॉक्टर के सर्टिफिकेट के जरिए लोग बिना किसी बीमारी के भी टीका लगवाने की कोशिश कर रहे हैं सरकार तक इस तरीके की शिकायत पहुंचने के बाद सरकार सतर्क है और खुद मुख्यमंत्री इस बात को कह रहे हैं कि इस तरीके का काम करने वालों के खिलाफ सख्‍त कार्रवाई की जाएगी. सरकार के इस टीकाकरण अभियान में शामिल होने के लिए हर सेंटर पर काफी भीड़ जमा है. वरिष्ठ नागरिकों से लेकर वह लोग भी पहुंच रहे हैं जो काफी दिनों से गंभीर बीमारी से पीड़ित हैं हालांकि सरकार को और सतर्क रहने की जरूरत है ताकि सही व्यक्ति को ही सही में टीका लगवाया जा सके जो सरकार के दूसरे चरण के लिए योग्य है.

Post a Comment

[blogger]

hindmata mirror

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget