Saturday, 20 March 2021

जापान में फिर कांपी धरती:समुद्री सीमा से सटे मियागी में 7.2 तीव्रता का भूकंप, कई इलाकों में सूनामी का अलर्ट

 

जापान के मियागी में आए भूकंप से वहां की सड़कों में बड़ी-बड़ी दरारें पड़ गईं। स्थानीय प्रशासन ने लोगों से ऊंचाई वाले इलाकों में जाने को कहा है। - Dainik Bhaskar
जापान के मियागी में आए भूकंप से वहां की सड़कों में बड़ी-बड़ी दरारें पड़ गईं। स्थानीय प्रशासन ने लोगों से ऊंचाई वाले इलाकों में जाने को कहा है।

जापान की समुद्री सीमा से सटे मियागी प्रांत में शनिवार को 7.2 तीव्रता (मैग्नीट्यूड) के भूकंप के झटके महसूस किए गए हैं। जापान के कई इलाकों में सुनामी अलर्ट भी जारी की गई है।

भूकंप का केंद्र उत्तर पूर्वी तट के पास 60 किलोमीटर गहराई में बताया जा रहा है। जापान के मौसम विभाग ने एक मीटर ऊंची लहरें उठने की चेतावनी जारी की है और लोगों से ऊंची जगहों पर जाने के लिए कहा है।

जापान के उत्तर-पूर्वी तट के पास भूकंप के केंद्र को दिखाता हुआ मैप।
जापान के उत्तर-पूर्वी तट के पास भूकंप के केंद्र को दिखाता हुआ मैप।

भूकंप से मियागी के कई इलाकों में नुकसान पहुंचा है। यहां जापान का एक न्यूक्लियर पावर प्लांट भी है, जो फिलहाल सुरक्षित बताया जार हा है। पिछले महीने भी जापान के पूर्वी समुद्री तट पर 7.1 तीव्रता का भूकंप आया था। उस समय सुनामी की चेतावनी जारी नहीं की गई थी।

भूकंप की वजह से फाइट रुकी

एक यूजर ने वीडियो शेयर करते हुए लिखा है कि भूकंप की वजह से जापान में चल रही फाइट को राकना पड़ा।

भूकंप से मियामी के न्यूक्लियर प्लांट को भी नुकसान पहुंचने का खतरा है। हालांकि, फिलहाल प्लांट को कोई नुकसान नहीं पहुंचा है।
भूकंप से मियामी के न्यूक्लियर प्लांट को भी नुकसान पहुंचने का खतरा है। हालांकि, फिलहाल प्लांट को कोई नुकसान नहीं पहुंचा है।

5 मार्च को न्यूजीलैंड में आया था 8.1 तीव्रता का भूकंप
इससे पहले 5 मार्च को न्यूजीलैंड के उत्तरी-पूर्वी तट पर 8.1 तीव्रता का भूकंप आया। इसके बाद इस इलाके में सुनामी का अलर्ट जारी किया गया है। भूकंप उत्तरी आइसलैंड के पास केरमाडेक द्वीप पर आया। जारी चेतावनी में कहा गया था कि तटवर्ती इलाकों के पास रहने वाले लोगों को तुरंत ऊंचाई वाले मैदानों में चले जाना चाहिए।

सूनामी क्या है?
समुद्र के भीतर जब तेज हलचल होती है तो इससे बहुत ऊंची लहरें उठने लगती हैं। ये लहरें जबर्दस्त आवेग के साथ आगे बढ़ती हैं। इन्हीं ऊंची लहरों को सूनामी कहते हैं। दरअसल सूनामी जापानी शब्द है जो सू और नामी से मिल कर बना है सू का अर्थ है समुद्र तट और नामी का अर्थ है लहरें।

Lorem ipsum is simply dummy text of the printing and typesetting industry.