उल्हासनगर कैम्प क्रमांक-5 के डंपिंग ग्राउंड को तत्काल बंद करने का आदेश

 

Dumping Ground

    उल्हासनगर. नागरिकों की मांग पर राज्य के जलसंपदा, शालेय शिक्षण, महिला व बालविकास राज्यमंत्री बच्चू कडू ने स्थानीय कैम्प क्रमांक-5 स्थित डंपिंग ग्राउंड (Dumping Ground) को बंद (Close) करने का आदेश उल्हासनगर महानगरपालिका (Ulhasnagar Municipal Corporation) को दिया है।  ऊक्त अवैध डंपिंग ग्राउंड के कारण आसपास के क्षेत्रों में रहने वाले लाखों नागरिकों को होने वाली दिक्कत और उनके स्वास्थ्य पर पड़ने वाले विपरीत परिणाम को लेकर स्थानीय नागरिक विविध एनजीओ (NGO), नगरसेवकों (Corporators) और दुकानदारों (Shopkeepers) की संस्थाओं के माध्यम से आंदोलन करते रहे है।

    गायकवाड पाडा परिसर के पास के इस डंपिंग ग्राउंड में रोज सेंकडों टन कचरा डाला जाता है। उचित और निर्धारित मापदंडों के अनुसार कचरे पर प्रक्रिया न होने के कारण परिसर में दुर्गंध फैली रहती है। इस समस्या का निदान हो इसलिए प्रहार जनशक्ती पार्टी, उल्हासनगर शहर अध्यक्ष प्रधान पाटिल ने भी मनपा व राज्य सरकार से पत्राचार कर डंपिंग को अन्यंत्र स्थलांतरित करने की मांग की थी, पाटिल ने राज्य मंत्री बच्चू कडु को भी निवेदन करते हुए डंपिंग की वास्तविकता सबूतों के साथ बताई थी। राज्यमंत्री बच्चू कडु ने शिकायत को गंभीरता से लेते हुए उल्हासनगर मनपा को आदेश दिए है कि ऊक्त डंपिंग ग्राउंड को बंद किया जाए और इसकी अन्य जगह व्यव्स्था की जाए।

    समस्या जल्द होगा समाधान

    इस संदर्भ में उल्हासनगर मनपा के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी युवराज भदाणे ने कहा कि अंबरनाथ तहसील के अंतर्गत आने वाले उसाटणे गांव परिसर में राज्य सरकार ने उल्हासनगर मनपा को डंपिंग ग्राउंड के लिए भूखंड आबंटित किया है। मनपा कमिश्नर डॉ राजा दयानिधि के उचित मार्गदर्शन में भूखंड से संबंधित शेष औपचारिकता पूरी होते ही डंपिंग ग्राउंड को उसाटने में स्थलांतरित करने की प्रक्रिया शुरू की जाएगी।

    Post a Comment

    [blogger]

    hindmata mirror

    Contact Form

    Name

    Email *

    Message *

    Powered by Blogger.
    Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget