Tuesday, 16 February 2021

पुडुचेरी में सियासी बदलाव:KIRAN BEDI को उपराज्यपाल के पद से हटाया गया, तेलंगाना के गवर्नर डॉ. तिमिलिसाई सुंदरराजन को सौंपा चार्ज

 

पुड्डुचेरी में मई में चुनाव होने हैं। अभी वी नारायणसामी यहां के मुख्यमंत्री हैं। - Dainik Bhaskar
पुड्डुचेरी में मई में चुनाव होने हैं। अभी वी नारायणसामी यहां के मुख्यमंत्री हैं।

पुडुचेरी में विधानसभा चुनाव के पहले बड़े सियासी उलटफेर के संकेत मिल रहे हैं। केंद्र सरकार ने वहां की उपराज्यपाल किरण बेदी को हटा दिया है। फिलहाल तेलंगाना के गवर्नर डॉ. तिमिलिसाई सुंदरराजन को पुडुचेरी के राज्यपाल का अतिरिक्त प्रभार दिया गया है। इससे पहले, सोमवार और मंगलवार को 2 मंत्रियों समेत 4 विधायकों ने वी नारायणसामी के नेतृत्व वाली कांग्रेस सरकार से इस्तीफा दे दिया था।

इन इस्तीफों के बाद यहां की कांग्रेस सरकार अल्पमत में आ गई थी। इनमें दो भाजपा में शामिल हो गए हैं। सभी इस्तीफे सोमवार और मंगलवार को हुए। खास बात ये है कि बुधवार को कांग्रेस नेता राहुल गांधी का पुडुचेरी दौरा है। इन इस्तीफों के बाद विधानसभा में कांग्रेस मेंबर्स की संख्या 15 से घटकर 10 हो गई है। वहीं आज ए जॉन कुमार के इस्तीफे के बाद विपक्षी दलों ने फ्लोर टेस्ट की मांग करते हुए वी नारायणसामी से CM की कुर्सी छोड़ने की मांग की है।

पुडुचेरी विधानसभा में कुल 33 सीट हैं। इनमें 30 सीटों पर चुनाव होता है, जबकि 3 सीटों पर विधायकों का मनोनयन होता है। फिलहाल विधानसभा में कांग्रेस गठबंधन सरकार और विपक्षी दलों के विधायकों की संख्या 14-14 हो गई है। राज्य में इसी साल मई में चुनाव होने हैं।

जॉन कुमार ने CM के लिए छोड़ी थी सीट
ए जॉन कुमार को मुख्यमंत्री वी नारायणसामी का करीबी माना जाता था। उन्होंने नेल्लीथोप सीट से 2016 के विधानसभा चुनाव जीते थे और नारायणसामी के लिए सीट खाली कर दी थी। कुमार ने बाद में 2019 में कामराज नगर उपचुनाव जीता। हाल ही में वे दिल्ली में भाजपा के बड़े नेताओं से मीटिंग कर के लौटे थे। उनका इस्तीफा इसी दौरे से जोड़कर देखा जा रहा है।

इस्तीफा देने वालों में विधायक ए जॉन कुमार, ए नमस्सिवम, मल्लादी कृष्णा राव और ई थेपयन्थन शामिल हैं। इनके अलावा कांग्रेस विधायक एन धनवेलु को पार्टी विरोधी गतिविधियों में शामिल होने के कारण अयोग्य घोषित कर दिया गया। इनमें नमस्सिवम और थेपयन्थन भाजपा में शामिल हो चुके हैं, बाकी नेता भी जल्द ही BJP में जा सकते हैं।

विधानसभा में दलों की स्थिति
पुडुचेरी में 2016 में विधानसभा चुनाव हुए थे। कांग्रेस को 15 सीटें मिली थीं। अभी यहां वी नारायणसामी मुख्यमंत्री हैं। कांग्रेस के अलावा AINRC को 8, AIADMK को 4, DMK को 2 सीटें मिली थीं। एक निर्दलीय कैंडिडेट जीता था। यहां भाजपा के 3 नॉमिनेटेड विधायक हैं। सरकार का कार्यकाल 8 जून को पूरा होने वाला है।


SHARE THIS

Author:

Etiam at libero iaculis, mollis justo non, blandit augue. Vestibulum sit amet sodales est, a lacinia ex. Suspendisse vel enim sagittis, volutpat sem eget, condimentum sem.

0 coment rios: