ओडिशा : 22 सालों बाद लोनावला से पकड़ में आया गैंगरेप का मुख्य आरोपी, देना पड़ा था CM जेबी पटनायक को इस्तीफा

 ओडिशा : 22 सालों बाद पकड़ में आया गैंगरेप का मुख्य आरोपी, देना पड़ा था CM जेबी पटनायक को इस्तीफा

सांकेतिक तस्वीर.

ओडिशा (Odisha) में एक IFS अधिकारी की पत्नी से हुए गैंगरेप के सनसनीखेज मामले के मुख्य आरोपी को 22 सालों बाद महाराष्ट्र में पकड़ लिया गया है. यह ऐसा मामला था, जिसकी वजह से तत्कालीन मुख्यमंत्री जे बी पटनायक (JB Patnaik) को इस्तीफा देना पड़ा था. 9 जनवरी, 1999 को सामने आए इस मामले में तीन आरोपी हैं, जिनमें से दो आरोपियों को घटना के सात दिन बाद ही गिरफ्तार कर लिया गया था, लेकिन मुख्य आरोपी बिबेकानंद बिस्वाल उर्फ बिबन दो दशक से ज्यादा समय से फरार था, जिसे अब महाराष्ट्र के लोनावला में आम्बी घाटी से गिरफ्तार कर लिया गया है.

साल 1999 में तीन लोगों ने IFS अधिकारी की पत्नी के साथ उस समय गैंगरेप किया था, जब वह अपने एक पत्रकार दोस्त के साथ कार से कटक जा रही थीं. तीनों आरोपियों ने जनवरी की रात में बारंगा के निकट महिला की कार रोक ली थी और उसके साथ गैंगरेप किया था. इस मामले की जांच केंद्रीय जांच ब्यूरो (CBI) को सौंपी गई थी. दो आरोपियों को घटना के सात दिन बाद ही गिरफ्तार कर लिया गया था और दोषी ठहरा दिया गया था.

एक आरोपी की पिछले साल हुई मौत

इस मामले में सबसे पहले 15 जनवरी, 1999 को प्रदीप साहू उर्फ पाडिया को गिरफ्तार किया गया था. खुर्दा जिला सेशन जज ने साल 2002 में उसे और टूना मोहंती को दोषी ठहराया था और दोनों आरोपियों को आजीवन कारावास की सजा सुनाई थी. हाईकोर्ट ने भी इस फैसले को बरकरार रखा था. पाडिया की पिछले साल फरवरी महीने में यहां कैपिटल हॉस्पिटल में इलाज के दौरान मौत हो गई थी.

मुख्य आरोपी को पकड़ने के लिए ‘ऑपरेशन साइलेंट वाइपर’

भुवनेश्वर-कटक के पुलिस कमिश्नर एस सारंगी ने सोमवार को बताया कि मुख्य आरोपी को पकड़ने के लिए तीन महीने पहले ‘ऑपरेशन साइलेंट वाइपर’ शुरू किया गया था, जिसके बाद उसे पकड़ा जा सका. उन्होंने कहा, “उसके ठिकाने के बारे में सूचना मिलने के बाद महाराष्ट्र में हमारी टीम एक्टिव थी और हम महाराष्ट्र पुलिस के साथ मिलकर काम कर रहे थे.”

उन्होंने बताया कि बिबन महाराष्ट्र के लोनावला में जालंधर स्वैन की फर्जी पहचान के साथ पलम्बर के रूप में काम कर रहा था. सूत्रों के मुताबिक, पुलिस अब बिबन को CBI को सौंप देगी. वहीं, महिला ने मुख्य आरोपी को मौत की सजा दिए जाने की मांग की है. इस घटना के बाद राज्य में बड़ा राजनीतिक हंगामा खड़ा हो गया था. राज्य भर में लोगों के आक्रोश के बाद तत्कालीन मुख्यमंत्री जे बी पटनायक को अपने पद से इस्तीफा देना पड़ा था.

Post a comment

[blogger]

hindmata mirror

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget