Saturday, 16 January 2021

मानखुर्द के नाले में अज्ञात व्यक्ति की सड़ी -गली अवस्था मे फेंकी गई हुई लाश बरामद




यशपाल शर्मा 

मानखुर्द के नाले में  अज्ञात व्यक्ति की सड़ी -गली अवस्था मे फेंकी गई लाश बरामद हुई है।  लाश मिलने से इलाके में फैली दहशत फैल गई है ।स्थानिक जनता में अब अपनी सुरक्षा राम भरोसे लगने लगी है ।  जानकारी के अनुसार  को किसी स्थानीय जाकिर हुसैन की रहने वाली महिला ने सुबह देखा और आवाज लगाई लाश नाले में पड़ी होने की जानकारी इलाके के रहिवासियो को दिया ।जिसपर स्थानिको ने पुलिस को 100 नंबर पर कॉल कर जानकारी दी ।

घटनास्थल पर पहुंची मानखुर्द पुलिस के वरिष्ठ पुलिस निरक्षक प्रकाश चौगुले अपने दल बल के साथ घटनास्थल पर पहुंच कर लाश को अग्निशामक दल के अधिकारियों की मदद से नाले से लाश को बाहर निकाल कर राजा वाड़ी पोस्ट मार्टम के लिये भेजा है ।परिणाम स्वरूप पत्रकारों से बात करते हुए मानखुर्द पुलिस स्टेशन के वरिष्ठ पुलिस निरक्षक प्रकाश चौगुले ने पत्रकारों से घटना के बारे में कहा कि जब तक पोस्टमार्टम रिपोर्ट नही आती है तब तक किसी निष्क्रिय पर बात नही कर सकते ।

पुलिस के अनुसार मृतक के शरीर के पहने हुए कपड़ो से आधार कार्ड ,पैनकार्ड पुलिस को मिला ,जिसमें मृतक के नाम की पहचान अयाज खान उर्फ मोहम्मद हनीफ खान के रूप में हुई है ।मृतक 15 दिनों पहले गांवों से मुंबई आया था ।बगैनवाड़ी से लेकर मानखुर्द मंडाला में उसके परिचित रहते है ।

वहीं सूत्रों की बातों में अगर गौर करें तो उनका कहना है कि किसी ने इस आज्ञात व्यक्ति को मारकर फेंक दिया होगा ।वहीं स्थानीको से इस मामले में जानने की कोशिश की गई तो उनका कहना है कि कहां नाला इतने उफान में तेजी के साथ बहे रहा है ,की संबंधित व्यक्ति की लाश नाले के तेज बहवो के कारण बहकर आयी होगी ।ईस मामले का निष्कर्ष पूरा का पूरा पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही इसका खुलासा हो सकेगा ।

कानून व्यवस्था को बनाये रखने के न जाने कितने किये जा रहे बड़े-बड़े दावे किये जा रहे हो 

चेंबूर परिमंडल के अतिरिक्त सहायुक्त ,जोन  6 के पुलिस उपायुक्त कृष्णाकांत उपाध्य के कानून व्यवस्था को लेकर किये जा रहे दावों की हवा कल सुबह गोवंडी के मानखुर्द नाले में एक आज्ञात व्यक्ति की साड़ी गाली अवस्था मे फेंकी हुई लाश मिलने से इलाके में एक बार फिर से दहशत निर्माण हो चली है ।मुंबइ पुलिस द्वारा चलाया जा रहा ऑपेरशन क्लीन आप पुलिस के मुहीम को जरूर धक्का लगते दिखाई पड़ने लगा है  । परंतु इलाके  में शांति कानून व्यवस्था निर्माण करने के प्रयास शिवाजीनगर, देवनार ,मानखुर्द ,चीता  कैम्प,आरसीएफ,चेंबूर,तिलकनगर पोलिस स्टेशन   पुलिस के लिये चुनवती से कम नही है ।

Lorem ipsum is simply dummy text of the printing and typesetting industry.