मनपा आयुक्त विपिन शर्मा का सर्जिकल स्ट्राइक, नगर अभियंता सहित कुल 19 अधिकारियों का डिमोशन

 

मनपा आयुक्त विपिन शर्मा का सर्जिकल स्ट्राइक

  • कई इंजीनियरों को किया डिमोशन

दिनेश वर्मा 

ठाणे. ठाणे मनपा आयुक्त विपिन शर्मा ने पहली बार कड़क भूमिका अपनाते हुए सर्जिकल स्ट्राइक किया है। आयुक्त ने नगर अभियंता सहित कुल 19 अधिकारियों का डिमोशन कर दिया है। 

आरोप है कि इन अधिकारियों की पदोन्नति में प्रक्रिया को बाइपास किया गया था। सभी अधिकारियों को उनके पुराने पद पर बहाल किया गया है। मनपा आयुक्त की सर्जिकल स्ट्राइक से अधिकारियों में हड़कंप मच गया है। मनपा में लम्बे समय से डिग्री और डिप्लोमा धारी अभियंताओं के बीच पदोन्नति को लेकर विवाद शुरू था। कई डिप्लोमाधारी को वरिष्ठ पद पर बहाल किया गया था। बताया गया है कि उक्त विवाद के मद्देनज़र आयुक्त विपिन शर्मा ने उलटफेर किया है। पता हो कि तत्कालीन आयुक्त संजीव जायसवाल के कार्यकाल के दौरान पदोन्नति नियमावली को अनदेखा कर मनपा के सार्वजनिक निर्माण कार्य, शहर विकास और पानी आपूर्ति विभाग के कनिष्ठ अभियंता से कार्यकारी अभियंता इत्यादि पदों पर कम क्षमता वाले अधिकारियों को बैठा दिया गया था।

नगर अभियंता रविंद्र खडताले को फिर से उपनगर अभियंता बनाया गया है, लेकिन उनके पास नगर अभियंता पद का अतिरिक्त प्रभार भी रखा गया है। अर्जुन अहिरे के पास उपनगर अभियंता का पद होने के साथ प्रभारी अतिरिक्त नगर अभियंता पद दिया गया है।

भरत भिवापुरकर, विकास ढोले, धनंजय गोसावी, राधाकृष्ण कोल्हे, रामदास शिंदे, नितिन येसुगड़े और शैलेन्द्र बेंडाले इन सभी कार्यकारी अभियंताओं के पास उपनगर अभियंता का अतिरिक्त कार्यभार था, जिसे वापस ले लिया गया है और सभी फिर कार्यकारी अभियंता पद पर बहाल किये गए हैं। शशिकांत सालुंखे, दत्तात्रय शिंदे, अतुल कुलकर्णी इन उप अभियंताओं के पास कार्यकारी अभियंता का अतिरिक्त कार्यभार था। सभी के अतिरिक्त कार्यभार को वापस ले लिया गया है उन्हें मूल पद पर वापस भेजा गया है।

Post a Comment

[blogger]

hindmata mirror

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget