मंदिर, आंदोलन, स्पोर्ट्स, जिम, बाजारे दारू की दुकानें खुले लेकिन स्कूले कब खुलेगी ?, छात्रों ने स्कूल खोलने की मांग


मिथिलेश गुप्ता 

डोंबिवली : - लॉकडाउन खुल गया, मन्दिर, बाज़ारे, आंदोलन खेल, जिम, पिकनिक स्पॉट, मॉल , सभारंभ दारू की दुकानें आदि शुरू हुए लेकिन स्कूल कब खुला होगा ऐसा सवाल कुछ छात्रों ने कल्याण डोंबिवली महापालिका के आयुक्त डॉ विजय सूर्यवंशी से पूछा हैं । हम मस्ती नही करेंगे, नियमों का पालन करेंगे यही हमारा बालहठ हैं ऐसा एक ज्ञापन छात्र वेदांत कुलकर्णी, ओजस प्रभु और प्रणव सारंग ने आयुक्त को सौंपा है ।

हमारी स्कूल अब स्कूल नही रही क्योंकि यह 9 माह से बन्द हैं । हा हमे कबूल है कि, सरकार ने हमारी सुरक्षा व स्वास्थ्य को ध्यान में रखते हुए स्कूल बंद किया है । लेकिन छात्र के रूप में हमे ऑनलाइन पढ़ाई में अनेक मुश्किलें आई । कान आंख और गर्दन में तकलीफे हुई । हम छोटे हैं लेकिन इस स्पर्धा के युग मे घरों में बैठना योग्य नही है । मुझे NDA बनना है, कोई डॉक्टर, कोई पुलिस, कोई IPS, कोई IAS बनना हैं लेकिन हमारे सपने बड़े है । हमे डरकर घरों में नही बैठना हैं, इसके बजाय लड़ना सिखाइए यही हमारी मांग हैं । सभी जगहों पर हम गए लेकिन हमें कोरोना नही हुआ तो स्कूल जाने से कोरोना कैसे होगा ? ऐसा सवाल छात्रों ने खड़े किए । 

● अगर कोरोना हुआ तो उसके जवाबदार हम होंगे सरकार नही । इसलिए सरकार तक हमारी मांगे पहुचाए, हमारी स्कूल शुरू करें, अनेकों का विरोध होगा लेकिन जिसे पढ़ना हैं उसके लिए स्कूल शुरू करें । कोई भूल-चूक हो तो छोटा बच्चा समझकर माफ करें । हम मस्ती नही करेंगे, नियमों का पालन करेंगे यही हमारा बालहठ हैं ऐसा पत्र में लिखा है ।

● कोरोना काल में आपने शहर, हमारा और हमारे परिवार का ख्याल रखा , हम घरों में थे लेकिन आप कठिन परिस्थितियों में काम कर रहे थे इसलिए डॉक्टर, पुलिस, मनपा प्रशासन तहसील सफाई कर्मचारी आदि को हम धन्यवाद देते हैं ।

Post a comment

[blogger]

hindmata mirror

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget