सामाजिक कार्यकर्ता तृप्ति देसाई को शिरडी जाते समय लिया हिरासत में, जानें क्यों


महाराष्ट्र के अहमदनगर में पुलिस ने सामाजिक कार्यकर्ता तृप्ति देसाई और उनके संगठन के एक दर्जन से अधिक सदस्यों को बृहस्पतिवार को शिरडी जाते समय रास्ते में हिरासत में ले लिया. वे लोग साईबाबा मंदिर के बाहर लगे बोर्ड को हटाने के लिए शिरडी जा रहे थे, जिस पर लिखा है कि श्रद्धालु ‘‘सभ्य तरीके के’’ वस्त्र पहनें. देसाई ने बाद में कहा कि यदि 31 दिसंबर तक बोर्ड नहीं हटाया गया, तो वह फिर शिरडी जाएंगी. देसाई द्वारा विरोध प्रदर्शन की घोषणा किए जाने के बाद उन्हें 11 दिसंबर तक अहमदनगर के शिरडी में प्रवेश करने से मना किया गया था. देसाई और उनके संगठन भूमाता ब्रिगेड के 15-16 सदस्यों को अहमदनगर पुलिस ने सूपा गांव के पास हिरासत में ले लिया ,जब वे शिरडी जा रहे थे.

अहमदनगर के पुलिस अधीक्षक मनोज कुमार पाटिल ने कहा, “हमने सभी कार्यकर्ताओं को बृहस्पतिवार शाम को छोड़ दिया और उन्हें पुणे जिले की सीमा पर पहुंचा दिया.” देसाई ने पीटीआई-भाषा से कहा कि उन्हें बताया गया था अगर वह शिरडी की तरफ जाती हैं तो उन्हें और उनके साथियों को खतरा हो सकता है. उन्होंने कहा, “हम मंदिर न्यास से आग्रह करते हैं कि 31 दिसंबर तक बोर्ड हटा दें. अगर बोर्ड नहीं हटाए गए, तो हम फिर से शिरडी जायेंगे.”

Post a comment

[blogger]

hindmata mirror

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget