डोम्बिवली इमारत हादसा:युवक बना देवदूत.. जिसने बचाई 75 जिंदगियां






मिथिलेश गुप्ता

डोंबिवली :- डोंबिवली के कोपर गांव स्थित चारुबामा स्कूल के पास मैना विठू निवास नामक 40 वर्षीय पुरानी दो मंजिला धोखादायक इमारत ढह गई । इस इमारत में 14 परिवार रहता था । इमारत गिरने से 14 परिवार अब सड़को पर आ गया है । हालांकि ततपुरता सभी रहिवासियो के रहने और भोजन की सुविधा की गई हैं ।

कल्याण डोंबिवली मनपा क्षेत्र में धोखादायक इमारतों की संख्या बड़ी है, प्रशासन नोटिस जारी करने के अलावा कुछ नहीं करता है और रहिवासी जान खतरे में डालकर रहते हैं । यह इमारत भी धोखादायक थी, 4 साल पहले ही नोटिस भेजा गया था लेकिन मालिक ने ध्यान नही दिया । गुरुवार 4 बजे के आसपास पहले महले पर रहने वाले कुणाल मोहिते जागकर टीवी देख रहा था, अचानक किचन में कुछ बड़ा गिरने की आवाज आई, उसने देखा तो किचन कुछ भाग गिर गया था । तभी उसने घर के अन्य सदस्यों को उठाया और उसने भागकर बाकी रहिवासियो को जगाया । 2 मिनटों में लोगो ने अपना घर खाली कर दिया और फिर इमारत का एक तरफ का भाग गिर गया । कुणाल मोहिते ने सब को समय पर उठाया जिससे कोई भी बड़ी जीवितहानि नही हुई । इस घटना में रहिवासियो के सामानों का बड़ा नुकसान हुआ है । 42 वर्ष पुरानी इमारत को 5 साल पहले से नोटिस जारी किया जा रहा है लेकिन मालिक ने ध्यान नहीं दिए ऐसा मनपा के वार्ड अधिकारी भारत पवार कहा । कल्याण डोंबिवली मनपा में धोखादायक इमारतों की समस्या गंभीर है महापालिका को इसपर ध्यान देना चाहिए ऐसा पूर्व नगरसेवक संजय पावशे ने कहा ।


Post a comment

[blogger]

hindmata mirror

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget