Monday, 19 October 2020

टिटवाला रेलवे ट्रैक पर मिला चार्टर्ड अकाउंटेंट का शव, करोड़ों के घोटाले में थे गवाह

 टिटवाला : महाराष्ट्र के टिटवाला रेलवे ट्रैक पर सोमवार को एक शव मिला था, जिसकी पहचान बाद में चार्टर्ड अकाउंटेंट सागर देशपांडे के रूप में हुई है। वो कॉक्स एंड किंग्स कंपनी के सीए थे। हाल ही में करोड़ों के एक घोटाले में वो गवाह भी बने थे, साथ ही उन्होंने क्राइम ब्रांच की मदद करने का भरोसा दिया था, लेकिन वो कुछ करते इससे पहले उनका शव मिला।





दरअसल पिछले हफ्ते प्रवर्तन निदेशालय ने यस बैंक घोटाला मामले में ट्रैवल कंपनी कॉक्स एंड किंग्स के मुख्य वित्तीय अधिकारी अनिल खंडेलवाल और आंतरिक ऑडिटर नरेश जैन को गिरफ्तार किया था। मामले में जब आर्थिक अपराध शाखा की टीम सीए देशपांडे से मिली तो उन्होंने उसे कुछ अहम दस्तावेज देने का वादा किया था, जो करोड़ों के घोटाले में उनकी मदद करते।
एक रिपोर्ट के मुताबिक देशपांडे 2010 में कॉक्स एंड किंग्स कंपनी में मैंनेजर फाइनेंस के रूप में कार्यरत थे। पिछले रविवार (11 अक्टूबर) अचानक वो लापता हो गए, जिसके बाद शुक्रवार को उनके परिवार ने लापता होने की रिपोर्ट नौपाड़ा पुलिस में दर्ज करवाई। 13 अक्टूबर को पुलिस ने पूछताछ के लिए उन्हें बुलाया था, लेकिन उसके दो दिन पहले वो गायब हो गए। बाद में उनका शव मिला। अब ये सुसाइड का मामला है या कुछ और पुलिस इसकी जांच कर रही है।
अब तक की जांच के मुताबिक कॉक्स एंड किंग्स ने "फर्जी ग्राहकों" का इस्तेमाल कर राणा कपूर के बैंक से लोन लिया और करोड़ो रुपये लूटे। कर्ज में डूबे यस बैंक में कॉक्स एंड किंग्स ग्रुप के खिलाफ 3,642 करोड़ रुपये की राशि बाकी है। इसमें कॉक्स एंड किंग्स लिमिटेड (CKL) के नाम पर 563 करोड़, Ezeego वन ट्रैवल एंड टूर्स लिमिटेड (ईओटीटीएल) के नाम पर 1,012 करोड़, कॉक्स एंड किंग्स फाइनेंशियल सर्विसेज लिमिटेड (CKFSL) के नाम पर 422 करोड़ रुपये, प्रोमेथियन एंटरप्राइज लिमिटेड यूके के नाम पर 1152 करोड़ रुपये और माल्वर्न ट्रैवल लिमिटेड, यूके के नाम पर 493 करोड़ रुपये का लोन है।

Lorem ipsum is simply dummy text of the printing and typesetting industry.